भोपाल (नईदुनिया)। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के मोबाइल पर मेड इन भोपाल, मेड इन चित्रकूट लिखवाने के बयान पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पलटवार किया है। मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा कि मेड इन मध्य प्रदेश मोबाइल, मेड इन चित्रकूट मोबाइल, बीएचईएल के मोबाइल। पता नहीं राहुल और कहां-कहां मोबाइल बनाने की फैक्ट्री लगाने वाले हैं। उन्होंने कहा कि राहुल आज भले कुछ भी बोल रहे हैं, पर सच्चाई यह है कि पिछले 70 वर्षों में 'मेड इन अमेठी' लिखा हुआ पतली पिन का चार्जर भी नहीं बना पाए। राहुल गांधी के इन बयानों पर सोशल मीडिया पर वार-पलटवार भी खूब चला।

मुख्यमंत्री के ट्वीट पर पलटवार करते हुए सांसद कमलनाथ ने ट्वीट किया कि जिन्होंने मध्य प्रदेश के औद्योगिक निवेश के भविष्य को बर्बाद कर दिया, उन्हें पतली पिन का चार्जर बहुत याद आ रहा है। जाती हुई सत्ता के बल पर न इठलाएं और बुधनी की बदहाली की कहानी बताएं। यदि विकास देखना है तो छिंदवाड़ा आ जाएं।

मेड इन अमेठी हैशटैग से ट्रोल हुए राहुल

राहुल गांधी के इन बयानों को लेकर सोशल मीडिया पर मेड इन अमेठी हैशटैग के साथ उन्हें खूब ट्रोल किया गया। किसी ने उड़ते हुए विमान में लटकते लोगों की फोटो पोस्ट कर उसे मेड इन अमेठी बताया तो साइकिल को जुगाड़ से बाइक बनाकर फोटो पोस्ट की। सोशल मीडिया पर इस हैशटैग के साथ न सिर्फ भाजपा ने मेड इन अमेठी का मजाक उड़ाया, बल्कि कमलनाथ सहित अन्य कांग्रेस नेताओं ने अमेठी का बीएचईएल प्लांट दिखाकर जवाब भी दिया।

Posted By: Nancy Bajpai