नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। आम आदमी पार्टी (आप) के एक और संस्थापक सदस्य ने पार्टी से किनारा कर लिया है। मकसूद उल हसन काजमी ने पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा है कि केजरीवाल उद्योगपति अनिल अंबानी के इशारे पर ही मुकेश अंबानी को बदनाम कर रहे हैं। फिल्म निर्देशक अशोक पंडित ने भी केजरीवाल पर मनमानी करने का आरोप लगाया। काजमी आप के तीसरे संस्थापक सदस्य हैं जिनका पार्टी से नाता टूटा है।

ऑल इंडिया इमाम काउंसिल के अध्यक्ष मकसूद उल हसन काजमी ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस कर आप संयोजक पर कई गंभीर आरोप लगाए। कहा कि जब पार्टी का गठन हो रहा था तभी से वे इससे जुड़े रहे, लेकिन दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान उन्हें एहसास हो गया कि केजरीवाल और प्रशांत भूषण अनिल अंबानी के कहने पर मुकेश के खिलाफ हमले कर रहे हैं। आम आदमी पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं का खर्च भी एक व्यावसायिक घराना ही उठाता है। हालांकि काजमी को जब बताया गया कि दिल्ली में तो केजरीवाल सरकार ने अनिल अंबानी की बिजली डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी के खिलाफ बेहद सख्ती दिखाई थी तो उनके पास कोई जवाब नहीं था। उन्होंने कहा कि अगर केजरीवाल और प्रशांत भूषण उनके साथ किसी चैनल पर लाइव बहस में हिस्सा लें तो वे उनकी सारी पोल खोल सकते हैं।

प्रेस कांफ्रेंस के दौरान फिल्म निर्देशक अशोक पंडित भी उनके साथ थे। पंडित ने कहा कि आप नेता शाजिया इल्मी का वह वीडियो उन्होंने ही जारी किया था, जिसमें वो मुसलमानों को सांप्रदायिक होने की अपील कर रही थीं। इसके बावजूद केजरीवाल ने उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। इससे पहले आम आदमी पार्टी अपने दो और संस्थापक सदस्यों को खो चुकी है। अश्रि्वनी उपाध्याय ने पार्टी छोड़ दी थी जबकि अशोक अग्रवाल को निकाला गया था।

पढ़ें: केजरी से टूट रहा है कुमार का विश्वास

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस