अमृतसर [जासं]। अमृतसर संसदीय क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी अरुण जेटली महंगी गाडि़यों के शौकीन हैं और गहनों से भी उन्हें लगाव है। नामांकन पत्र के साथ दिए हलफनामे के अनुसार उनके पास 71.56 करोड़ रुपये की संपत्ति है, जिसमें चल संपत्ति 36.86 करोड़ रुपये व अचल संपत्ति 34.70 करोड़ रुपये की है। जेटली के पास 3 करोड़ दस लाख 86 हजार 774 रुपये मूल्य की कारें है।

जेटली के पास एक करोड़ 91 लाख 750 रुपये की एफडीआर है। उन्होंने एनप्रो ऑयल लिमिटेड में 9 करोड़ रुपये व डीसीएम श्री राम कंसोलोडेटिड में 8 करोड़ रुपये निवेश कर रखा है। जेटली के पास एक करोड़ 35 लाख की नकदी है। उन्होंने अपनी पत्नी संगीता डौली को आठ करोड़ 20 लाख रुपये का कर्ज दिया है। पब्लिक प्रोवीडेंट फंड में पंद्रह लाख रुपये की राशि है। प्रॉपर्टी खरीदने के लिए एक करोड़ 96 लाख रुपये एडवांस दे रखा है। उनके पास एक करोड़ 36 लाख रुपये की ज्यूलरी है।

जेटली की पत्नी संगीता डौली के पास साढे़ सात लाख रुपये की नकदी आठ लाख 22 हजार रुपये की एफडीआर 23 लाख 44 हजार रुपये की ज्यूलरी है। जेटली की पत्‍‌नी के पास कुल 46 लाख 16 हजार की चल व अचल संपत्ति 41 करोड़ रुपये की है।

सोनी दंपती के पास 100 करोड़ की संपत्ति

रूपनगर : आनंदपुर साहिब संसदीय क्षेत्र से उम्मीदवार कांग्रेस प्रत्याशी अंबिका सोनी क्षेत्र में अब तक की सबसे अमीर प्रत्याशी हैं। उनके पति उदय चंद सोनी अपनी पत्नी से भी दोगुनी संपत्ति के मालिक हैं। दोनों की संपत्ति को जोड़ दिया जाए तो एक अरब 18 करोड़ 35 हजार 973 रुपये मूल्य की बैठती है। इसमें उदय चंद सोनी के पास 79 करोड़ 98 लाख 91 हजार 927 रुपये की संपत्ति है।

पांच साल में दोगुनी हुई परनीत की संपत्ति

पटियाला : केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री परनीत कौर की संपत्ति पिछले पांच सालों में दोगुनी से ज्यादा हो चुकी है। वर्ष 2009 में महारानी की संपत्ति करीब 42 करोड़ थी, जो अब बढ़कर 86 करोड़ 35 लाख रुपये पहुंच गई है। चल संपत्ति में भी 2 करोड़ रुपये से ज्यादा बढ़े हैं। परनीत कौर के पास उनके पति से ज्यादा कैश है। उनके पास 8 लाख 30 हजार रुपये हैं।

चल संपत्ति के मामले में उनके व उनके पति कैप्टन अमरिंदर सिंह के पास 5 क रोड़ 37 लाख 95 हजार 511 रुपये हैं। उनके पास 80 करोड़ 97 लाख 68 हजार 560 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप