30 घंटे तक बाधित रही विद्युत आपूर्ति

प्रदेश सरकार बिजली उपभोक्ताओं के लिए जितनी अधिक गंभीर है, उसके अधिकारी-कर्मचारी उतने ही शिथिल। इसका खामियाजा उपभोक्ताओं को भुगतना पड़ रहा है।

JagranPublish:Sun, 13 Jan 2019 05:52 PM (IST) Updated:Sun, 13 Jan 2019 05:52 PM (IST)
30 घंटे तक बाधित रही विद्युत आपूर्ति
30 घंटे तक बाधित रही विद्युत आपूर्ति

जागरण संवाददाता, वलीदपुर (मऊ) : प्रदेश सरकार बिजली उपभोक्ताओं के लिए जितनी अधिक गंभीर है, उसके अधिकारी-कर्मचारी उतने ही शिथिल। इसका खामियाजा उपभोक्ताओं को भुगतना पड़ रहा है। चुनावी साल में यह लापरवाही सरकार के लिए घातक हो सकती है। अब क्षेत्र के अतरारी खैराबाद गांवों को ही ले लें, विभागीय लापरवाही के चलते यहां 30 घंटे से अधिक समय तक बिजली गुल रही। इसके चलते बिजली से जुड़े हर काम ठप हो गए थे। इससे लोगों में गुस्सा फैल गया।

मुहम्मदाबाद गोहना विद्युत सब स्टेशन से संबद्ध बुनकर बाहुल्य अतरारी खैराबाद की बिजली सप्लाई शनिवार की सुबह 9:00 बजे गायब हो गई और फिर रविवार की देर शाम तक बाधित रही। इससे बुनकारी का काम पूरी तरह से ठप रहा। बिजली न रहने पर लोगों को पेयजल, मोबाइल चार्ज आदि समस्याओं से दो-चार होना पड़ा। हुआ यह कि मुहम्मदाबाद गोहना कस्बे के मुहल्ला अतरारी में बिजली का एलटी तार शनिवार की सुबह टूट कर गिर गया। उसे जोड़ने के लिए विभागीय कर्मी पहुंचे तो मुहल्ले वालों ने जोड़ने से मना कर दिया। उनका कहना था कि यहां विद्युत तार जमीन से काफी नीचे और जर्जर है। अक्सर टूटकर गिरता रहता है। इसलिए यहां स्थाई खंभा लगाकर तार को ऊपर किया जाया। इसके बाद बिजली आपूर्ति चालू की जाय। यह बात कर्मचारियों ने उच्चाधिकारियों को बताया तो वे भी वहां पहुंच गए। मुहल्लावासियों को समझा-बुझाकर तार जोड़ने का प्रयास किए परंतु वे जिद पर अड़े रहे। अंतत: विभाग ने वहां खंभा लगा कर तार को ऊंचा किया। समाचार लिखे जाने तक विद्युत आपूर्ति बहाल नहीं हुई थी। कर्मचारी काम में लगे हुए थे।