आप कब से विदेश घूमने का प्लान बना रहे हैं लेकिन किसी वजह से आपका सपना पूरा नहीं हो पा रहा है. इसकी सबसे बड़ी वजह पैसे हो सकते हैं. विदेश की ट्रिप के लिए अच्छे-खासे पैसे होने चाहिए. अगर हम आपसे कहें कि आप कम पैसों में ही विदेश घूमने का मजा ले सकते हैं, तो आपको शायद ये बात मजाक लगे, पुडुचेरी एक ऐसी जगह है, जिसे भारत का फ्रांस भी कहा जाता है. सबसे खास बात ये कि आप यहां बिना पासपोर्ट और वीजा के जा सकते हैं.

 

फ्रांस से जुड़ा है इतिहास, मिलती है खास झलक 

इस छोटे से प्रदेश का इतिहास फ्रांस से जुड़ा हुआ है. 1673 ईस्वी में फ्रेंच लोग यहां आए और 1954 में ये भारतीय संघ का हिस्सा बना. इसकी बसावट समुद्र के किनारे होने के कारण भी यहां काफी टूरिस्ट आते हैं. दिल्ली से 2400 किलोमीटर दूर स्थित पुडुचेरी, भारत के खूबसूरत शहरों में से एक है. 

टाउन प्लानिंग

 

पुडुचेरी अपनी बेहतरीन टाउन प्लानिंग के लिए जाना जाता है. फ्रांसिसी लोगों के लिए यहां बनाई गयी टाउनशिप व्हाइट टाउन के नाम से पहचानी जाती है. 

महात्मा गांधी बीच 

देश के कई महापुरुषों की मूर्तियों को पुडुचेरी के बीच पर लगाया गया है और प्रॉमीनाड बीच पर महात्मा गांधी की मूर्ति लगाई गई है, इसलिए इस बीच को महात्मा गांधी बीच भी कहा जाता है.

फ्रेंच वॉर मेमोरियल

प्रॉमीनाड बीच पर लगी गांधी जी की मूर्ति के सामने ही फ्रेंच वॉर मेमोरियल है जिसे उन फ्रांसिसी सैनिकों की याद में बनाया गया है, जो प्रथम विश्व युद्ध में शहीद हुए थे और इसी स्थान पर हर साल 14 जुलाई को फ्रेंच सैनिकों की स्मृति में कार्यक्रम आयोजित किया जाता है.

मनाकुला विलय कुलॉन मंदिर

पुडुचेरी में मौजूद भगवान गणेश का प्राचीन मंदिर 1673 से पहले बना था और इसे मनाकुला विलय कुलॉन मंदिर के नाम से जाना जाता है. इस मंदिर में हाथी द्वारा भक्तों को आशीर्वाद दिया जाता है इसलिए इस मंदिर की मान्यता के साथ-साथ सैलानियों का रोमांच भी बढ़ जाता है.

सेक्रेड हार्ट कैथोलिक चर्च

पुडुचेरी का सेक्रेड हार्ट कैथोलिक चर्च पूरी दुनिया में मशहूर है, जिसका निर्माण 1902 में शुरू हुआ था. इस चर्च में तमिल और अंग्रेजी भाषाओं में प्रार्थना होती है और एक साथ 2000 लोग इसमें प्रार्थना कर सकते हैं.

कैसे पहुंचे 

यहां पहुंचने का सबसे आसान रास्ता तो ट्रेन या हवाई जहाज से चेन्नई पहुंचकर वहां से बस या टैक्सी से पुडुचेरी पहुंचने का है. वैसे ट्रेन से 40 किलोमीटर दूर विल्लुपुरम तक भी आया जा सकता है.

घूमने का बेस्ट टाइम 

अक्टूबर से अप्रैल का महीना सबसे बेस्ट है. 

कहां ठहरे 

आपको 1500 से 5000 में होटल मिल जाएगा. साथ ही आपकी जेब के हिसाब से यहां रिसॉर्ट भी हैं. 

खास जगह : पैराडाइस बीच, पुडुचेरी म्यूजियम के अलावा यहां पुरानी इमारतें भी देखी जा सकती हैं. 

 

Posted By: Pratima Jaiswal