अगर कोई आपसे पूछे कि आप घूमने-फिरने क्यों जाते हैं, तो शायद आपका जवाब होगा कि आप भागदौड़ से ब्रेक लेने और खुश रहने के लिए ट्रिप पर जाना पसंद करते हैं। इसके अलावा भी घूमने-फिरने के फायदों में से एक है फिटनेस। कुछ लोग फिटनेस को मेंटेंन करने रखने के लिए भी घूमते रहते हैं। वेलनेस को बरकरार रखने के लिए आजकल वेलनेस टूरिज्म काफी चलन में है। भारत के कुछ टूरिस्ट स्पोर्ट्स ऐसे हैं, जो वेलनेस टूरिज्म के लिए जाने जाते हैं। यहां ज्यादातर लोग महानगरों से छुट्टियां मनाने आते हैं। पर्यटन मंत्रालय भी आर्युवेद और वेलनेस टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए कई कदम उठा रहा है। वेलनेस सेंटर्स के लिए दिशानिर्देश ‘आयुष’ विभाग के साथ अस्पतालों और स्वास्थ्य सेवा (नभ) के राष्ट्रीय बोर्ड द्वारा विकसित किया गया है। साल 2011 में पर्यटन मंत्रालय ने वेलनेस टूरिज्म के लिए एक वर्कशॉप भी आयोजित किया था। आइए, आपको बताते हैं वेलनेस टूरिज्म के लिए कौन-सी जगहें मशहूर हैं।

ऋषिकेश, उत्तराखंड 

उत्तराखंड स्थित हिमालय की पहाड़ियों में आपको कई मेडिटेशन सेंटर मिल जाएंगे। यहां पर आप मेडिटेशन के अलावा प्रकृति के करीब रहकर वहां के फूलों-पौधों और जड़ी-बूटियों के बारे में बहुत कुछ जान सकते हैं। यहां आयुर्वेदिक डॉक्टर, स्किल्ड थेरपिस्ट, न्यूट्रिशनिस्ट, योगा एक्सपर्ट्स मौजूद हैं। यहां 80 तरह का स्पा किया जाता है जिसमें पारंपरिक आयुर्वेद और मॉर्डन स्पा का मिश्रण देखने को मिलता है। 

कोवलम, केरल 

एक बेहतरीन होटल के साथ ही यह भारत के टॉप वेलनेस सेंटर्स में भी शामिल है। यहां मिलने वाली थेरपीज में डीटॉक्सिफिकेशन, रीजुवनेशन, डी-स्ट्रेस और वेलनेस सबकुछ शामिल है। यहां आपको आर्युवेदिक थेरेपी मिलेगी। जिसे आप सुविधाअनुसार चुन सकते हैं। 

गोवा 

गोवा की कई जगहों पर एक्सपर्ट्स की देखरेख में मुश्किल ट्रीटमेंट के साथ ही कई तरह की थेरपीज भी करवाई जाती हैं। शरीर और दिमाग के साथ ही आत्मा को भी फिर से तरोताजा करने में यहां के आयुर्वेद और नैचरोपथी ट्रीटमेंट और थेरपीज मदद करते हैं। हेल्दी और स्ट्रेस फ्री लाइफस्टाइल जीने के लिए यहां अडवांस्ड योग कोर्सेज भी करवाए जाते हैं। 

बेंगलुरु 

 

लोगों का इलाज करने के लिए यहां आयुर्वेद और योग का सहारा लिया जाता है। यहां के वेलनेस सेंटर में आयुर्वेदिक हेल्थ केयर, स्पा, योग, प्राणायाम और शाकाहारी खाने के जरिए लोगों को आराम मिलता है। यहां आने वाले गेस्ट अपनी जरूरत के हिसाब से अपना पैकेज चुन सकते हैं।  

 

Posted By: Pratima Jaiswal