आपने कई ऐसे प्राकृतिक तालाबों या झील के बारे में सुना होगा, जो हजारों सालों से अस्तित्व में हैं। लेकिन आज हम आपको ऐसी झील के बारे में बताने जा रहे हैं, जो 10वीं सदी में बनवाई गई थी। समय के साथ-साथ ये झील अब पर्यटक स्थल बन गई है। हरियाणा के फरीदाबाद में स्थित सूरजकुंड झील को राजा सूरजमल ने 10वीं शताब्दी में बनवाया था। 

सूरजकुंड झील दिल्ली से 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां हर साल फरवरी में शिल्प मेले का आयोजन किया जाता है। सूरजकुंड, अनगपुर बांध से लगभग 2 किमी की दूरी पर है। फरीदाबाद का यह कैम्पस बहुत ही खूबसूरत है।  

वीकेंड के लिए अच्छा ऑप्शन 

दिल्ली-एनसीआर के लोग अगर आप एक दिन की छुट्टी का लुत्फ उठाना चाहते हैं तो आप यहां जा सकते हैं। दिल्ली से महज 20 किलोमीटर दूर हरियाणा की यह जगह ट्रैवलर्स की फेवरेट रही है। दुनियाभर में मेले के लिए मशहूर सूरजकुंड की झील बेहद शांत है। दिल्ली से महज 32 किलोमीटर दूर फरीदाबाद का बडख़ल लेक भी वीकेंड एंजॉय करने की बेहतरीन जगह हो सकती है। इस झील की खासियत यह है कि यह प्राकृतिक झील है। पहाड़ियों से घिरी यह झील बेहद सुंदर दिखती है। झील के अलावा घूमने के लिए कुछ वाइल्ड लाइफ और बर्ड सेंचुरी भी हैं, जहां आप अपनी एक दिन की छुट्टी को एंजॉय कर सकते हैं। यहां पक्षियों की चहचहाहट आपको भीतर तक सुकुन देगी। इन्हीं में से एक है दिल्ली का असोला भारती वाइल्ड लाइफ सेंचुरी भी है। आप यहां खूबसूरत रिसोर्ट में घूम सकते हैं।

 

घूमने से पहले इन बातों का रखें ध्यान 

सूरजकुंड झील बहुत गहरी है, जिस वजह से झील में नहाने या खेलने की सख्त मनाही। इस झील में कई लोगों की डूबने से मौत भी हो चुकी है, इसलिए आप झील पर घूमने जाएं, तो सावधानी बरतें। 

कैसे पहुंचे

आप दिल्ली से फरीदाबाद जा रहे हैं, तो फरीदाबाद मेट्रो स्टेशन उतरकर बस या टैक्सी के माध्यम से फरीदाबाद जा सकते हैं। 

घूमने के लिए बेस्ट टाइम 

आप साल के किसी भी महीने में यहां जा सकते हैं, लेकिन सुबह और शाम को यहां घूमने का मजा ही कुछ और है।  

 

Posted By: Pratima Jaiswal