नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क।  Budget 2020: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2020-21 का बजट पेश कर दिया है। इस दौरान उन्होंने पर्यटन और संस्कृति के क्षेत्र में बड़ा ऐलान किया है। इसके मुताबिक वित्त मंत्रायल ने टूरिज्म इंडस्ट्री को 2500 करोड़ रुपये का आवंटन किया है। वहीं संस्कृति मंत्रालय के लिए वित्त मंत्री ने 3150 करोड़ रुपये का बजट दिया है। इस रकम से पर्यटन के क्षेत्र में कुल देश की पांच ऐतिहासिक स्थानों की सूरत बदली जाएगी।

वित्त मंत्री ने देश की जिन पांच ऐतिहासिक जगहों की सूरत बदलने की घोषणा की हैं, उन जगहों के नाम राखीगढ़ी, हस्तिनापुर, शिवसागर, धोलावीरा एवं आदिचेल्लनूर हैं। इन सभी जगहों पर म्यूजियम बनाए जाएंगे। इसके अलावा इन स्थलों का कायाकल्प किया जाएगा। ऐसे में आइए जानते हैं इन 5 जगहों के बारे में।

राखीगढ़ी

हरियाणा के हिसार जिले में स्थित राखीगढ़ी में म्यूजियम बनाएं जाएंगे। इस गांव की खासियत ये है कि यह एक ऐसा पुरातात्विक स्थल है जहां सिंधु घाटी की पूर्व सभ्यता के साक्ष्य मिले हैं। यहां 4,500 साल पुराने कंकाल के पेट्रस बोन' के अवशेष मिले हैं।

हस्तिनापुर

हस्तिनापुर को तो आमतौर पर सभी लोग जानते हैं। महाभारत काल में कौरवों और पांडवो की सल्तनत के नाम से जानने वाली इस जगह की भी सूरत बदली जाएगी। वहीं इस बारे में पुरातत्वविदों ने बताया कि वहीं पास में एक गांव पाया है जिसको लेकर उन्होंने दावा किया है कि यह 2000 साल पहले का गांव है। वित्त मंत्री ने बजट में इस स्थल को म्यूजियम के तौर पर विकसित करने की घोषणा की है।

 धोलावीरा

धोलावीरा गुजरात के कच्छ जिले में स्थित है। यह स्थल प्राचीन सिंधु घाटी सभ्यता का एक खंडहर हैं। सरकार ने यहां भी म्यूजियम बनाने की घोषणा की है। 

आदिचेल्लनूर

आदिचेल्लनूर तमिलनाडु में है। यह एक पुरातात्विक स्थल है। सरकार ने इस जगह को भी संवारने की घोषणा की है। इसलिए यहां भी म्यूजियम बनाया जाएगा। 

शिवसागर 

शिवसागर असम में स्थित एक बहुत बड़ी झील है। इस जगह को भी केंद्र सरकार संवारेगी।