नई दिल्ली, विनीत शरण। मार्च 2020 से लेकर आज मई 2021 तक दुनिया भर में कभी लॉकडाउन तो कभी अनलॉक हो रहा है। हम सबने लॉकडाउन का वक्त अलग-अलग तरीके से गुजारा। पर अगर आपको लॉकडाउन का वक्त फिर से मिले तो आप उसमें क्या करेंगे? जब यह सवाल ब्रिटेन की मशहूर सर्वे एजेंसी यूगव के सर्वे में पूछा गया तो रोचक जवाब सामने आए।

सर्वे का सवाल

सोचें की जब से कोविड 19 शुरू हुआ है तब से आप लॉकडाउन में अपनी खाली समय कैसे बिताएंगे। क्या कुछ ऐसा है जो आप लॉकडाउन में अब करना चाहेंगे पर कर न सके। इसका जवाब लोगों ने अपने शब्दों में दिया। फिर शोधकर्ताओं ने इसे कैटेगरी में बांट दिया गया।

युवा सेहत बनाना चाहते हैं और बुजुर्ग बागवानी करना

सर्वे में शामिल 25 फीसद लोगों ने कहा कि लॉकडाउन में समय बिताने को लेकर उन्हें कोई न कोई पछतावा जरूर है। सबसे ज्यादा सामान्य पछतावा लोगों को व्यायाम या खुद को ज्यादा सेहतमंद बनाने को लेकर है। 11 फीसद लोगों ने कहा कि अगर उन्हें फिर लॉकडाउन में समय बिताने का मौका मिले तो वे व्यायाम करेंगे और खुद को सेहतमंद बनाएंगे। 13 फीसद महिलाएं और 8 फीसद पुरुष ऐसा मानते हैं। लोगों का दूसरा सबसे बड़ा पछतावा खुद को काम में ज्यादा प्रोडक्टिव न बना पाने को लेकर है। 9 फीसद लोग फिर से मौका मिलने पर नई स्किल, भाषा, इंस्ट्रूमेंट सीखना चाहते हैं। महिला-पुरुष हों या किसी भी उम्र के लोग सबकी यही चाहत है।

इस दोनों पछतावों के बाद सबसे ज्यादा 6 फीसद लोग मौका मिलने पर घर की सजावट (होम डेकोरेशन) या बागवानी करना चाहते हैं। हालांकि ये चाहत रखने वाले 65 से ज्यादा उम्र के 11 फीसद लोग हैं लेकिन 18 से 24 साल के बस एक फीसद लोग ये करना चाहते हैं।

मौका मिलने पर ये भी करना चाहते हैं लोग

पढ़ने में अधिक समय बिताना, रचनात्मक होने में वक्त गुजारना, घर के काम, सफाई और अन्य कामों में अधिक समय बिताना, वजन घटाना, उत्पादक होने में अधिक समय बिताना, स्वयं की देखभाल पर अधिक वक्त गुजारना, अधिक समय बाहर बिताना, किताब या उपन्यास लिखना और परिवार के साथ ज्यादा समय बिताना।

दुनिया में अभी किन देशों में लॉकडाउन और कहां अनलॉक

21 मई तक के आंकड़ों और परिस्थितियों के अनुसार ब्रिटेन समेत कई यूरोपीय देशों में सभी पाबंदियां खत्म की जा रही हैं। वहीं भारत के कई राज्यों में लॉकडाउन है। इसके अलावा इजराइल, भूटान, अमेरिका, न्यूजीलैंड और चीन ने अपने नागरिकों को मॉस्क न लगाने की इजाजत देनी शुरू कर दी है। अनलॉक वाले देशों में लोग एक दूसरे के घर जा सकेंगे लेकिन बड़े समारोह पर अब भी पाबंदी जारी रहेगी। 

Edited By: Vineet Sharan