पृथ्वी का दो तिहाई हिस्सा जलीय होने के बावजूद भी यहां शुद्ध पानी की मात्रा बहुत ही कम है। वायु और जल ही पृथ्वी पर जीवन का आधार है। समुद्र से घिरे होने की वजह से ही पृथ्वी को वाटर प्लैनेट (Water Planet) भी कहा जाता है। लेकिन अब इसका अस्तित्व खतरे में है। इसी के मद्देनजर महासागरों के महत्व, इसमें बढ़ रहे प्रदूषण, उसके खतरों और समंदर के संरक्षण के प्रति लोगों में जागरूकता फेलाने के उद्देश्य से संयुक्त राष्ट्र द्वारा हर साल 8 जून को विश्व महासागर दिवस (World Oceans Day) यानी विश्व समुद्र दिवस मनाया जाता है।

कैसे हुई इसकी शुरुआत?

विश्व महासागर दिवस महासागरों के प्रति सम्मान देने, उनके महत्व को जानने और उनके संरक्षण के लिए जरूरी कदम उठाने का अवसर प्रदान करता है। कनाडा सरकार ने साल 1992 में रियो डी जनेरियो में आयोजित पृथ्वी सम्मेलन के दौरान विश्व महासागर दिवस की स्थापना का प्रस्ताव रखा था। इसके बाद संयुक्त राष्ट्र ने दिसंबर 2008 में 8 जून को विश्व महासागर दिवस को आधिकारिक तौर पर मनाने की मान्यता दी। तब से हर साल 8 जून को विश्व महासागर दिवस मनाया जाता है।क्यों मनाया जाता है यह दिन?

हर साल इस दिन को मनाए जाने के पीछे का मकसद महासागरों के महत्व से लोगों को अवगत कराना है कि कैसे महासागर खाद्य सुरक्षा, जैव विविधता, परिस्थिति संतुलन जैसी चीजों में अपनी अहम भूमिका निभाते हैं। देशों के विकास के साथ ही महासागरों के दूषित होने की गति भी उतनी ही तेजी से बढ़ रही है। महासागरों में गिरने वाले प्लास्टिक प्रदूषण के वजह से महासागर धीरे-धीरे गंदे होते जा रहे हैं। इससे समुद्री जीवों के स्वास्थ्य पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। वे गलती से प्लास्टिक को अपना भोजन समझ लेते हैं जिससे उन्हें अपनी जान से हाथ धोना पड़ता है। जो बहुत ही दुखद है।

विश्व महासागर दिवस का महत्व

दुनिया की करीब 30 फीसदी आबादी तटीय इलाकों में रहती है और उनका जनजीवन पूरी तरह इसी पर निर्भर है। इसके अलावा दुनिया के कई देशों की अर्थव्यवस्था को भी गति प्रदान करने में महासागरों का योगदान किसी से छिपा नही है। विशाल महासागर से पेट्रोलियम के साथ ही अनेक संसाधन भी प्राप्त होते हैं। एक अनुमान के मुताबिक, तकरीबन 10 लाख जीवों की प्रजातियों का घर समंदर हैं। इसके अलावा मौसम में आनेवाले बदलाव और जलवायु परिवर्तन की जानकारी प्रदान करने में भी महासागरों का अहम योगदान होता है, इसलिए इनका संरक्षण करना हम में से हर एक की जिम्मेदारी है।

विश्व महासागर दिवस 2020 का विषय

महासागरों के संरक्षण को लेकर जागरूकता फैलाने के लिए हर साल विश्व महासागर दिवस को अलग-अलग थीम के अनुसार मनाया जाता है और विश्व महासागर दिवस 2020 का विषय है 'एक सतत महासागर के लिए नवाचार' (Innovation for a Sustainable Ocean) है।

Pic credit- Freepik

Edited By: Priyanka Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट