मुद्रा स्‍कीम

महिलाओं के हित में यह मुद्रा स्‍कीम काफी फायदेमंद है। इस योजना का लाभ किसी भी बैंक से लिया जा सकता है। सरकार ने यह योजना ऑर्गनाइज्‍ड सेक्टर में कारोबार करने वाली महिलाओं को देखते हुए बनाया है। जिसमें महिलाओं को 50 हजार रुपए से 10 लाख रुपए का लोन मुहैया आसानी से बिना गारंटर के मिल जाता है।
वैभव लक्ष्‍मी
वर्तमान में बैंकों की ओर से महि‍लाओं के लि‍ए स्‍पेशल स्‍कीम चलाई जा रही हैं। जिसमें बैंक ऑफ बड़ौदा महिलाओं को ध्यान में रखकर वैभव लक्ष्‍मी स्कीम चला रही है। इसमें महिला उद्यमी को लोन के लिए बैंक में अपनी प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट जमा करनी होती है। जिससे की बैंक उसे आसानी से लोन मुहैया करा सके। इस दौरान महिला को एक गारंटर देना होता है। इस स्‍कीम के तहत महिलाएं घर का सामान भी लोन के जरिए खरीद सकती हैं।
 
वी शक्ति
महिला कारोबारियों को लोन मुहैया कराने में विजया बैंक भी शामिल है। यह भी वी शक्ति स्कीम चला रही है। इस स्कीम के तहत महिलाओं का विजया बैंक का अकाउंट होना जरूरी है। इसके बाद 18 साल या उससे अधिक आयु की महिलाएं आसानी से बैंक में लोन के लिए अप्‍लाई कर सकती हैं। इस स्‍कीम के तहत लोन लेकर महिलाएं टेलरिंग, कैटरिंग, कैंटीन, अचार व मसाला बनाने जैसी उत्‍पादन का करोबार शुरू कर सकती है।
 
सिंड महिला शक्ति
सिंडिकेट बैंक सिंड महिला शक्ति नाम से एक स्‍कीम चल रही है। इस स्‍कीम के तहत हर साल करीब 20 हजार महिला कारोबारियों को इस बैंक से लोन दिया जाता है। इसके तहत बैंक पांच करोड़ का लोन कम इंटरेस्ट रेट पर देता है। इतना ही नहीं महिला सशक्‍तिकरण को देखते हुए इस लोन के साथ ही बैंक क्रेडिट कार्ड की भी सुविधा देता है। यह लोन 7 से 10 साल के लिए लिया जा सकता है।
 
वुमन सेविंग
समाज में महिला उद्यमियों की संख्‍या में इजाफा करने के लिए एचडीएफसी बैंक भी अहम भूमिका निभा रही है। इतना ही नहीं यह बैंक महिला कस्‍टमर्स को ईजी शॉप एडवांटेज कार्ड के साथ ही यहां पर लॉकर की सुविधा दे रही है। इस दौरान अगर महिलाएं 200 रुपये की खरीददारी पर एक रुपए का कैश बैक का फायदा पाती हैं। इसके अलावा 150 रुपये की खरीददारी पर एक रिवॉर्ड प्वाइंट का लाभ मिलता है।
 

Posted By: Molly Seth