नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Diwali 2019 Do's And Don'ts: खुशियों के त्योहार दिवाली की तैयारियां देशभर में ज़ोरो-शोरो से हो रही हैं। दिवाली इस बार 27 अक्टूबर यानी रविवार को है। दिये, लाइट्स और पटाखों को इस त्योहार का अहम हिस्सा माना जाता है। हालांकि, दिवाली मनाते समय सबको कई चीज़ों का ख्याल रखना चाहिए। आज हम आपको बता रहे हैं रोशनी के इस त्योहार पर आप क्या करें और क्या न करें, ताकि इस दिवाली आप और आपका परिवार रहे खुश और सुरक्षित। 

क्या करें

1. वैसे तो पटाखें न ही जलाएं तो अच्छा है लेकिन अगर आप फिर भी खरीदना चाहते हैं तो इन्हें सिर्फ लाइसेंस प्राप्त दुकानों से ही खरीदें। साथ ही इन पटाखों की मैनूफेक्चरिंग तारीख चेक करना न भूलें।

2. पटाखों की पैकेट पर निर्देश पढ़ना न भूलें।

3. किसी भी अप्रत्याशित दुर्घटना के लिए पानी और रेत की बाल्टी तैयार रखें।

4. बच्चों को पटाखों से दूर रखें। 

5. पटाखों को माचिस के डब्बे, मोमबत्ती और दियों से दूर रखें। इनसे आग भी फैल सकती है। 

6. सूती कपड़े और जूते पहनें। पटाखे फोड़ते समय नायलॉन या सिंथेटिक कपड़े भूलकर भी न पहनें। 

7. चोट लगने की स्थिति में फर्स्ट एड बॉक्स हमेशा तैयार रखें। ज़्यादा चोट लगने पर पास के अस्पताल में दिखा दें।

क्या न करें

1. पटाखे नहीं जलाना बहतर है, इससे पहले से हो रहा प्रदूषण और भयानक रूप ले लेता है। खासकर, दिल्ली और एनसीआर में। पटाखों से प्रदूषण बढ़ता है और कई तरह की बीमारियों को जन्म देता है। कई महीनों तक पटाखों का धुंआ हवा में रहता है, जिससे दमे और ब्रोंकाइटिस जैसी सांस की बीमारी वाले लोगों की दिक्कतें और बढ़ जाती हैं।

2. पटाखों को घर के अंदर भूलकर भी न जलाएं। 

3. साउंड इफेक्ट के लिए पटाखों को किसी बर्तन या फिर ग्लास बोटल से न ढकें।

4. पटाखों को अपने कपड़ों की जेब में न रखें।

5. जले हुए पटाखों से न खेलें।

6. पटाखों को बाहर घूम रहे जानवरों के पास, अस्पताल के सामने या फिर सड़क पर न फोड़ें।  

Posted By: Ruhee Parvez

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप