नई दिल्ली, लाइवस्टाइल डेस्क। Hindi Diwas Essay Ideas: हिन्दी दिवस भारत में हर साल '14 सितंबर' को मनाया जाता है। हिन्दी विश्व में बोली जाने वाली प्रमुख भाषाओं में से एक है। विश्व की प्राचीन, समृद्ध और सरल भाषा होने के साथ-साथ हिन्दी हमारी 'राष्ट्रभाषा' भी है। हिन्दी ने हमें दुनिया में एक नई पहचान दिलाई है। हम आपको बता दें कि हिन्दी भाषा विश्व में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली तीसरी भाषा है।

14 सितम्बर का दिन हम सभी हिंदी भाषियों के लिए बेहद खास होता है। स्कूल, कॉलेजों में सभाएं आयोजित कर हिंदी पर चर्चा-परिचर्चा की जाती है। दरअसल, 14 सितम्बर 1949 को हिंदी को राजभाषा का दर्जा दिया गया था।

14 सितंबर 1953 को पहली बार हिंदी दिवस मनाया गया था। इस दिन कई जगहों पर हिंदी भाषा की प्रगति के लिए और बच्चों में भाषा के प्रति रुचि विकसित करने के लिए तरह-तरह की प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता है। हिंदी भाषा के कई कवियों ने भी कविताएं लिखकर हिंदी के प्रति अपने प्रेम को प्रदर्शित किया है।

क्या आप जानते हैं कि हिंदी के साथ-साथ अंग्रेज़ी को भी राजभाषा का दर्जा दिया गया है। संविधान सभा ने 14 सितंबर 1949 को हिंदी को देश की राजभाषा के बनाया था। हिंदी के ऐतिहासिक महत्व को ध्यान में रखते हुए देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने 14 सितम्बर को हिंदी दिवस मनाने का फैसला किया। तभी से देश में प्रति साल 14 सितम्बर को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाने लगा।

हिंदी दिवस देश में ही नहीं पूरी दुनिया में मनाया जाता है। हालांकि दुनिया के अलग देशों में हिंदी दिवस मनाने की तारीख अलग है। 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। पहला विश्व हिंदी सम्मेलन 10 जनवरी 1975 को नागपुर में आयोजित किया गया था जिसमें 30 देशों के 122 प्रतिनिधि शामिल हुए थे।

हिन्दी दिवस के मौके पर इन विषयों पर तैयार करें निबंध

  1. हिन्दी को ही क्यों चुना गया राष्ट्रभाषा
  2. 14 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है हिन्दी दिवस 
  3. भारतीय संविधान और हिन्दी भाषा
  4. लगभग एक हजार वर्ष पुराना है हिन्दी का इतिहास 
  5. हिंदी है हिंदुस्तानियों की पहचान 
  6. बेहद दिलचस्प है हिन्दी भाषा का इतिहास
  7. हिन्दी के बड़े लेखकों के बारे में जानें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप