Father’s Day 2021: पिता के प्रति आभार जताने के लिए हर साल जून के तीसरे संडे को फादर्स डे मनाया जाता है। जितनी जरूरत जिंदगी में एक मां की होती है उतनी ही पिता की भी। बच्‍चों के पालन-पोषण में पिता की अहम भूमिका होती है। तो आज हम जानेंगे इस दिन से जुड़ी जरूरी बातें।

फादर्स डे का इतिहास

फादर्स डे मनाने की शुरुआत कब हुई इसे लेकर कई तरह के मत हैं। कुछ लोगों का कहना है कि फादर्स डे 1907 में पहली बार वर्जीनिया में मनाया गया था तो वहीं कुछ लोगों का मानना है कि 19 जून 1910 को वाशिंगटन में पहली बार इस दिन को मनाने की शुरुआत हुई थी। साल 1916 में अमेरिकी राष्ट्रपति वुडरो विल्सन ने इस दिवस को मनाने के सुझाव को मंजूरी दी। इसके बाद 1966 में राष्ट्रपति लिंडन जानसन ने जून के तीसरे रविवार को फादर्स डे मनाने की आधिकारिक घोषणा की थी। और तब से ही यह हर साल जून के तीसरे रविवार को धूमधाम के साथ मनाया जाता है। 

कैसे मनाते हैं फादर्स डे

बच्चों द्वारा पिता को कार्ड, गिफ्ट और फूल देकर इस दिन को सेलिब्रेट किया जाता है। वैसे आउटिंग, सप्राइज डिनर, ट्रिप पर जाकर भी कुछ अलग और ज्यादा मजेदार तरीके से इस दिन को सेलिब्रेट किया जा सकता था लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते बेहतर होगा आप घर पर ही अलग-अलग तरीकों से इस दिन को यादगार बनाएं।

फादर्स डे का महत्व

इस दिन की सोच साल 1909 में मदर्स डे से ही मिली थी। हम में से ज्यादातर लोग मां की कुर्बानी और प्यार को ही महत्व देते हैं जबकि पिता का हाथ भी बच्चों के सिर पर रहना जरूरी है। बच्‍चों के भविष्य की नींव रखने, उनकी छोटी-छोटी जरूरतें पूरी करने में भी पिता का रोल बहुत ही खास होता है। तो उन्हें इस चीज़ के लिए थैंक्यू जरूर कहें।

Pic credit- freepik