नई दिल्ली। जागरण की वेबसाइट 'विश्वास न्यूज़' की फैक्ट चेक टीम हर दिन सोशल मीडिया पर वायरल हो रहीं ख़बरों का सच हमारे रीडर्स के लिए सामने लाने का प्रयास करती है। पेश हैं गुरुवार की ऐसी ही टॉप 5 ख़बरें।

Fact Check: अमित शाह ने योगी को नहीं लिखा यह पत्र, यह फर्जी है

सोशल मीडिया में गृह मंत्री अमित शाह का एक पत्र वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि यह पत्र अमित शाह ने यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को लिखा है। विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में वायरल पत्र फेक साबित हुआ। जांच में पता चला कि गृह मंत्री अमित शाह ने यह पत्र उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को नहीं लिखा था। यह फर्जी है। पूरी ख़ूबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

Fact Check: अजीब आवाज निकालने वाले सांप के वायरल वीडियो का तेलंगाना के करीमनगर से कोई संबंध नहीं, झूठा दावा वायरल

सोशल मीडिया पर अजीबोगरीब आवाज निकालते सांप का एक वीडियो वायरल हो रहा है। सोशल मीडिया यूजर्स दावा कर रहे हैं कि वायरल वीडियो तेलंगाना के करीमनगर का है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा झूठा पाया गया है। वायरल वीडियो में दिख रहे सांप की प्रजाति का नाम ईस्टर्न हॉगनोज है। असल में यह सांप आवाज नहीं निकाल रहा बल्कि उसके मुंह-खुलने और बंद होने के दौरान यह आवाज एक यूट्यूबर की है, जिनके चैनल के वीडियो को करीमनगर का बता वायरल किया जा रहा है। पूरी ख़ूबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

Quick Fact Check : गोद ली हुई हिन्‍दू लड़की की शादी कराई गई थी हिन्‍दू लड़के से, वायरल पोस्‍ट भ्रामक है

सोशल मीडिया में एक बार फिर से एक जोड़े की तस्‍वीर वायरल हो रही है। इसमें एक दुल्‍हन को एक मुस्लिम महिला से आशीर्वाद लेते हुए देखा जा सकता है। यूजर्स दावा कर रहे हैं कि केरल में एक मुस्लिम परिवार ने अपनी बेटी की शादी हिंदू लड़के से की।पड़ताल में वायरल पोस्‍ट भ्रामक साबित हुई। हमने एक बार पहले भी इस तस्‍वीर की जांच की थी। हमारी पड़ताल में पता चला था कि वर्ष 2020 में एक मुस्लिम दंपती ने गोद ली हुई हिन्‍दू लड़की की शादी एक हिन्‍दू लड़के से मंदिर में कराई थी। उसी वक्‍त की तस्‍वीर समय-समय पर भ्रामक दावों के साथ वायरल होती रहती है। पूरी ख़ूबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

Fact Check: म्यांमार में सैन्य तख्तापलट के बाद गलत दावे के साथ वायरल की जा रहीं हैं KIA की पुरानी तस्वीरें

सोशल मीडिया पर हथियारबंद लोगों की कुछ तस्वीरें इस दावे के साथ शेयर की जा रही हैं कि ये काचिन इंडिपेंडेंस आर्मी (केआईए) के सदस्य हैं, जिन्होंने म्यांमार के एक शहर पर कब्जा किया है। हमारी पड़ताल में हमने पाया कि ये दावा भ्रामक है। वायरल हो रही तस्वीरें पुरानी हैं, और इनका हालिया म्यांमार संकट से कोई लेना-देना नहीं है। पूरी ख़ूबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

Fact Check: डिजिटल आर्टिस्ट द्वारा बनाई गई हिमालय पर्वत श्रृंखला की तस्वीर को असली मानकर शेयर कर रहे हैं लोग

सोशल मीडिया पर लोग एक तस्वीर को शेयर कर दावा कर रहें हैं कि यह अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र से ली गई हिमालय की फोटो है। हमारी पड़ताल में हमने पाया कि ये तस्वीर असली नहीं है, बल्कि इसे डिजिटल रूप से क्रिस्टोफ़ हॉरमैन नामक कलाकार ने एडिटिंग टूल्स का इस्तेमाल करके बनाया है। पूरी ख़ूबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

Vishvas News जागरण न्यू मीडिया का एक आईएफसीएन सर्टिफाइड (IFCN Certified) फैक्ट चेकिंग ग्रुप है।

Edited By: Ruhee Parvez