हमारे घर में कुछ जगहें ऐसी होती हैं जहां बैक्टीरिया सबसे ज्यादा और तेजी से फैलते हैं। अगर इन जगहों की सही तरीके से साफ-सफाई न की जाए तो ये बीमारियों का घर भी बन सकते हैं। टॉयफाइड, फूड प्वॉइजिंग जैसे समस्याएं कई बार इन्हीं इग्नोरेंस की वजह से फैलती है। तो आइए जानते हैं घर की किन जगहों पर छिपे हो सकते हैं बीमारी फैलाने वाले किटाणु?

किचन

किचन में सबसे ज्यादा गंदगी होती है। खाने पकाने से लेकर उसका वेस्ट और खराब फूड तक को किचन में ही डिस्पोज़ किया जाता है। इतना ही नहीं चूल्हे पर दाल, सब्जी गिरना, दीवारों पर मसाले, तेल आदि के छींटे व दाग भी लगते रहते हैं। इसलिए किचन को साफ करना ज़रूरी है। सफाई न होने से चीटी, कॉक्रोच, चूहे घर में अपनी जगह बनाने लगते हैं। जो बेशक बीमारी बढ़ाने का ही काम करते हैं। तो रोजाना खाना बनने के बाद स्टोव, उससे लगी दीवार, पोंछ जाने वाले कपड़े को जरूर साफ करें। हां चिमनी, माइक्रोवेव, मिक्सर ग्राइंडर, एग्ज़ॉस्ट फ़ैन की हफ्ते में एक बार सफाई चलेगी।

सिंक

किचन के बाद सबसे ज्यादा जर्म्स सिंक में पनपते हैं। गंदे बर्तन रखने, सब्जियों, फलों का टुकड़ा फंस जाने की वजह से उसमें जर्म्स का अटैक होने लगता है। तो बर्तन धोने के बाद इसे जरूर साफ कर लें। और हां, ये भी ध्यान रखें कि ये जगह हर वक्त भीगी न रहें क्योंकि नमी ही भी बैक्टीरिया पनपने और फैलने की वजह होता है। दिन में एक बार साबुन वाले पानी या  ब्लीच से इसकी सफाई करें। 

बाथरूम

बाथरूम में नमी के साथ उमस भी रहती है, जिसके चलते बैक्टीरिया को पनपने का सही माहौल मिल जाता है। इसलिए बाथरूम के फर्श, वहां मौजूद चीज़ों को जितना हो सके सूखा व साफ सुथरा रखें। कमोड की सफाई के साथ ही नल को भी साफ रखें। कहीं लीकेज की प्रॉब्लम है तो उसे ठीक करा लें। दीवारों पर जाले वगैरह की भी नियमित तौर पर सफाई करते रहें।

Pic credit- freepik