नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। World Sight Day 2019: हर साल अक्टूबर महीने के दूसरे गुरुवार के दिन दुनिया भर में दृष्टि दिवस के रूप में मनाया जाता है। दृष्टि हानि और अंधापन जैसी आंखों की गंभीर समस्या के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए दृष्टि दिवस मनाया जाता है। आंखें हमारे शरीर का सबसे नाज़ुक और ज़रूरी अंग हैं, इसलिए इस बात का ख्याल रखना बेहत ज़रूरी है कि ये अच्छी तरह काम करें। इस साल विश्व दृष्टि दिवस 10 अक्टूबर यानी आज मनाया जा रहा है और इस बार का विषय है 'Vision First'।

आंखों की समस्या के लक्षण

1. धुंधलापन और साफ न दिखना 

2. आंखों में या उसके आसपास दर्द, सूजन या खुजली 

3. आंखों में जलन और लाल होना 

4. आंखों के आगे छोटे धब्बे या कुछ उड़ता हुआ दिखना

आंखों की समस्या की वजह

1. ज़्यादा प्रदूषण की वजह से आंखों में धूल या गंदगी जमना 

2. ज़रूरत से ज़्यादा कॉस्मैटिक प्रॉडक्ट के इस्तेमाल से आखों में या उसके आसपास जलन जैसा महसूस हो सकता है। 

3. कम्पूटर या मोबाइल के ज़्यादा इस्तेमाल से आपकी आंखों में ड्राइनेस यानि सूखापन आ सकता है या फिर ज़्यादा पानी आ सकता है।

अगर आपको आंखों की कोई समस्या सता रही है तो आप इन घरेलू उपायों को आज़मा सकते हैं:

चाय की पत्ती

क्या आप जानते हैं कि चाय की पत्ती में ज़बरदस्त एंटीबैकटीरियल एजेंट होते हैं जो आंखों का लाल होना या सूजन को दूर कर सकते हैं। आपको सिर्फ इतना करना है: टीबैग को गर्म पानी में डुबोएं और फिर इसे 15 मिनट के लिए आंखों पर लगा लें। आप इस चाय के पानी से आंखों को धो भी सकते हैं। लेकिन अगर आपकी आंखों में जलन है तो सिर्फ इसे आंखों पर कुछ देर के लिए रख लें।  

मोगरे के फूल

साफ पानी में रात भर के लिए कुछ मोगरे के फूल डुबो कर रख दें। अगली सुबह इस पानी को आई-ड्रॉप की तरह दिन में 3-4 बार इस्तेमाल करें। मोगरे का पानी न सिर्फ आपकी आंखों को साफ करेगा बल्कि इन्हें इनफेक्शन से भी बचाएगा। 

 

Posted By: Ruhee Parvez

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप