नई दिल्ली, जेएनएन। कोरोना की दूसरी लहर में हमें शारीरिक के साथ मानसिक रूप से सेहतमंद रहना जरूरी है। हम शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए व्यायाम और खानपान पर ध्यान देते हैं। लेकिन क्या आपको मालूम है कि कुछ आहार आपको मानसिक रूप से सेहतमंद रहने में भी मदद करते हैं। मनोवैज्ञानिकों को मुताबिक जब हम मानसिक रूप से परेशान, तनावग्रस्त या डिप्रेशन में होते हैं तब हमें ज्यादातर ज्यादा शुगर और फैट वाले आहार खाने का मन करता है। पर खाने-पीने की ये चीजें हमारे मानसिक स्वास्थ को फायदा नहीं पहुंचाती हैं। न्यूट्रिशनल साइकैट्री में प्रकाशित एक शोध के मुताबिक इस वक्त जब दुनिया की एक बड़ी आबादी मानसिक चुनौतियों से जूझ रही है, तब लोग आइसक्रीम, पेस्ट्री, पिज्जा खाकर खुद को कंफर्ट पहुंचाना चाहते हैं। पर आहार विशेषज्ञ इनकी जगह सब्जी, फल, मछली, अंडे, बादाम, बीन्स और दही खाने की सलाह देते हैं। शोध के मुताबिक ज्यादातर लोग अपने खानपान का चुनाव करते वक्त शारीरिक सेहत को तो ख्याल रखते हैं लेकिन मानसिक सेहत को भूल जाते हैं। आइये कुछ आहार के बारे में जानते हैं, जो मानसिक सेहत को बेहतर बनाते हैं।

1. मछलियां

मछली को ब्रेन फूड कहते हैं क्योंकि ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है। यह मानसिक सेहत को काफी फायदा पहुंचाता है। ओमेगा-3 एजाइटी को कम करता है।

2. बेरी

स्ट्रॉबेरी, ब्लूबेरी और ब्लैकबेरी। ये एक अच्छा नाश्ता है। इसमें एंटी ऑक्सीडेंट होता है। यह कोशिकाओं की मरम्मत करते हैं और इंफ्लेमेशन को भी कम करते हैं। यह प्रदूषण, सिगरेट आदि के चलते हुए नुकसान को भी कम करते हैं और एंजाइटी-डिप्रेशन में भी राहत देते हैं।

3. दही

अगर आप पेट को सही रखने के लिए दही का सेवन कर रहे हैं तो याद रखिए आप अपनी सेहत का कहीं ज्यादा भला कर रहे हैं। ज्यादातर लोग प्रोबायोटिक्स के लिए दही खाते हैं, लेकिन हालिया शोध करते हैं कि पेट-मस्तिष्क का गहरा जुड़ाव है। इसके चलते दही तनाव, बेचैनी के स्तर को भी घटा देता है।

4. होलग्रेन या साबुत अनाज

शोध के मुताबिक होलग्रेन्स ट्राफ्टोफान नामक एमिनो एसिड का बड़ा स्रोत होते हैं। वहीं इस एमिनो एसिड के चलते फील गुड हार्मोन सेरोटोनिन के उत्पादन में मदद करते हैं। सेरोटोनिन से दिमाग शांत होता है, मूड अच्छा होता है और नींद का चक्र भी बेहतर होता है।

5. अखरोट

अगर आप किसी स्नैक की तलाश में हैं जो लंबे समय तक आपकी मानसिक सेहत को अच्छा रखे तो अखरोट का सेवन करें। अखरोट मस्तिष्क जैसा दिखता है और इसकी सेहत के लिए सुपरफूड है। ये एंटीऑक्सीडेंट का भंडार होते हैं। ये नए न्यूरान्स के निर्माण में भी मदद करते हैं। यानी ये मस्तिष्क की नई कोशिकाओं का निर्माण भी करते हैं।

6. हरी पत्तेदार सब्जियां

हरी पत्तेदार सब्जियां शारीरिक सेहत के साथ मानसिक सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद है। साइंस जर्नल न्यूरोलॉजी में प्रकाशित शोध के मुताबिक जो लोग पालक और दूसरी साग का सेवन करते हैं उनमें संज्ञानात्मक गिरावट की रफ्तार धीमे होती है।

7. बीन्स

बीन्स खुशहाल मस्तिष्क का आहार है। यह फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट से भरा आहार है। यह ब्लड शुगर स्थिर रहता है जिससे ज्यादा ऊर्जा बर्न होती है और मानसिक सेहत बेहतर होती है। बीन्स में थाइमिन विटामिन होता है जो याद्दाश्त बेहतर बनाता है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप