नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Myths about Walnuts: अखरोट यानी वॉलनट को आप सुपरफूड की कैटेगरी में शामिल कर सकते हैं क्योंकि इसमें कई ऐसे न्यूट्रिएंट्स शामिल होते हैं जो हमारे दिल, दिमाग और आंतों के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं। रोजाना इसके सेवन से आप सेहत से जुड़ी कई समस्याओं से बचे रह सकते हैं। लेकिन अखरोट के सेवन को लेकर लोगों के मन में कई प्रकार की भ्रांतियां भी हैं। जिस वजह से लोग बाकी दूसरे ड्रायफ्रूट्स की तुलना में इसका कम सेवन करते हैं। तो आज हम फ्रीडम वेलनेस मैनेजमेन्ट की

फाउंडर और जानी-मानी डायटीशियन नाज़नीन हुसैन से अखरोट से जुड़े ऐसे ही मिथ और उनके पीछे की सच्चाई जानेंगे। 

1. मिथकः दिन में 1-2 अखरोट खाना काफी होता है।

कम से कम सात अखरोट (12-14 टुकड़े) खाने की सलाह दी जाती है, जो मुट्ठीभर या 28 ग्राम के बराबर होते हैं, जिससे इस

सुपरफूड के ज्यादा लाभ मिल सकें। एक मुट्ठी अखरोट में से अल्फा-लिनोलेनिक एसिड (एएलए), प्रोटीन और फाइबर जैसे कई न्यूट्रिएंट्स मिल जाते हैं। 

2. मिथकः गर्मियों में अखरोट खाना सही नहीं होता।

जरूरी ओमेगा-3 फैटी एसिड्स और विटामिन्स तथा खनिजों के स्वास्थ्यकर मिश्रण के लिये अखरोट साल भर खाए जाने

चाहिये। अपनी डेली डाइट में इस सुनहरे ड्राई फ्रूट को शामिल करने से आपको एनर्जी की कमी नहीं होगी, आप फोकस्‍ड एवं

एनर्जी से भरपूर रहेंगे। तो, अगली बार जब आप गर्मी के किसी दिन शाम 4 बजे एनर्जी लेना चाहें, तो अखरोट खाएं। अखरोट

को अपनी स्मूथीज में डालें, दही, अनाज, पैककेक पर छिड़कें, या ताजगी देने वाले समर डेजर्ट के लिये अपनी आइस-क्रीम या किसी ताजे फल पर अखरोट की टॉपिंग बनाएं।

3.  मिथकः भीगे अखरोट, कच्चे अखरोट से ज्यादा फायदेमंद होते हैं।

कई लोग मानते हैं कि भीगे अखरोट खाना ज्यादा फायदेमंद होता है। जो सच नहीं है। अगर आप अखरोट को पानी में भिगाते हैं, तो आपको उसका पानी भी पीना पड़ेगा, जिससे पानी में गए न्यूट्रिएंट्स आपको मिल सकें। अखरोट को कच्चा या हल्का भूनकर खाना ज्यादा अच्छा होता है इससे उसका न्यूट्रिएंट्स बरकरार रहते हैं।

4. मिथकः अखरोट खाने से मोटापा आता है और वजन बढ़ता है

शरीर के वजन और कम्पोजिशन पर अखरोट का कोई निगेटव असर नहीं होता है। वास्तव में अखरोट शरीर का वजन

मेनटेन रखता है, अगर आप इसे रोजाना खाते हैं तो। अखरोट खाने से पेट भरा रहता है जिससे भूख कम लगती है और यही फंडा वजन कंट्रोल करने में मदद करता है। 

5. मिथक- अखरोट खाने से कोलेस्‍ट्रॉल का स्तर बढ़ सकता है।

वास्तव में अखरोट बैड कोलेस्‍ट्रॉल कम करने और अच्छे कोलेस्‍ट्रॉल लेवल को मेनटेन रखता है। अखरोट ब्लड प्रेशर

को कम करने और ब्लड ग्लूकोज लेवल को नियमित रखने में भी लाभदायक होते हैं। अखरोट खाने से हृदय रोग और स्ट्रोक का जोखिम कम हो सकता है।

तो अखरोट को अपनी डेली डाइट का हिस्सा बन जाएं और अच्‍छी सेहत पाएं। 

Pic credit- freepik

Edited By: Priyanka Singh