नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। पूर्व सुपरमॉडल और एक्टर मिलिंद सोमन लगातार फिटनेस एक नई मिसाल पेश कर रहे हैं, साथ ही देश के करोड़ों लोगों को अपनी दृढ़ता, निष्ठा और हर मुश्किल स्थिति में भी फिटनेस को प्राथमिकता देना सिखाया है।

चाहे न्यूनतम तापमान में भी दौड़ लगाना हो, या फिर हेल्दी खाना खाना हो, मिलिंद सोनम 54 की उम्र में भी कई लोगों को प्रेरित कर रहे हैं। तो अगर नए साल की शुरुआत में आपने वज़न कम या फिर हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाने की ठान ली है, तो मिलिंद सोमन से 5 सीख ले सकते हैं।  

अपने दिन की शुरुआत नट्स से करें

ये एक्टर रोज़ाना अपने दिन की शुरुआत मुट्ठी भर ड्राई-फ्रूट्स के साथ करते हैं। उनका कहना है कि मेरे लिए, बादाम कई सालों से नाश्ते से पहले खाना फायदेमंद रहा है क्योंकि वे आवश्यक पोषक तत्वों, प्रोटीन और विटामिन-ई के अच्छे स्रोत होते हैं जो स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। उसके साथ ही नट्स आपको दिन की शुरुआत करने के लिए ज़रूरी एनर्जी देते हैं।

पॉज़ीटिव रहें और अपने दिमाग़ को फिट रहने की ट्रेनिंग दें 

मिलिंद का कहना है, " मेरा मानना है कि हम कभी भी किसी भी उम्र में कुछ नया सीखना शुरू कर सकते हैं। मैंने एंडुरेंस रनिंग साल 2003 में ही शुरू की, उस वक्त मेरी उम्र 38 साल थी। उसके बाद से मैंने कभी रनिंग करना नहीं छोड़ा। फिज़िकल फिटनेस से ज़्यादा ये मेरे लिए खुद पर यकीन करने वाली चीज़ है। यह ज़िंदगी की हर मुश्किलों से सकारात्मक तरीके से निपटने के बारे में है, हर अनुभव और परिस्थिति से सकारात्मक सबक सीखना। जब आप किसी भी उम्र में किसी भी प्रकार का व्यायाम या एक्टिविटी शुरू करते हैं, तो धीमी गति से शुरू करें- अपने शरीर और दिमाग़ की प्रतिक्रिया को समझें, स्वीकार करें और फिर आगे बढ़ें। फिर चाहे आप योगा शुरू करें, स्विमिंग, साइकिलिंग या फिर जिम।

जागरूक जीवनशैली को चुनें

हफ्ते में कुछ घंटे शारीरिक व्यायाम के साथ जागरूक जीवन शैली बनाना भी ज़रूरी है। लिफ्ट लेने की बजाय हमेशा सीड़ियों से जाएं, बाज़ार सामान लेने जाएं तो हमेशा पैदल चलकर या साइकिल से जाएं, कभी कार या बाइक से न जाएं। जब भी खाने के बाद भूख लगे तो बादाम, मखाने या फिर सीज़न के हिसाब से फल खाएं। मैं ज़्यादा देर बैठ नहीं सकता, यहां तक कि फ्लाइट के दौरान भी मैं बीच-बीच में उठकर चलता हूं। अपनी ज़िंदगी में ये छोटे बदलाव करके देखें आपको खुद अच्छा महसूस होगा।  

शरीर को ज़रूरी आराम दें

डाइट और नींद न सिर्फ अच्छी सेहत के लिए ज़रूरी है बल्कि वर्कआउट के बाद उसके रिजल्ट्स देखने के लिए भी ज़रूरी है। मेरे लिए एक अच्छी नींद लेना सबसे ज़रूरी है। अपने शरीर को ये अनुशासन सिखाना बेहद अहम है, इससे आपका दिमाग़ और शरीर दोनों हर वक्त फ्रेश महसूस करेंगे।

Posted By: Ruhee Parvez

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस