नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा बच्चों की जिंदगी प्रभावित हुई है। उनकी पढ़ाई-लिखाई, खेल-कूद और दोस्तों के साथ मस्ती सब पर कोरोना का पहरा लगा हुआ है। पिछले डेढ़ सालों से बच्चे स्कूल नहीं जा रहे हैं, उनकी फिजिकल एक्टिविटी भी कम हो रही है, जिसका नतीजा बच्चों में बढ़ते मोटापे के तौर पर देखा जा रहा है। बच्चों को फिटनेस एक्टिविटीज़ में हिस्सा लेने का मौका नहीं मिल रहा, बच्चे पूरा दिन मोबाइल और टीवी के साथ गुजार रहे हैं जिससे उनका वज़न तेज़ी से बढ़ रहा है। बच्चों में मोटापा, सुस्ती और उदासी जैसी समस्याएं बढ़ रही हैं। इस मुश्किल वक्त में योग और एक्टिविटी में सुधार करके बच्चों के मोटापे को कंट्रोल किया जा सकता है, साथ ही उनके मानसिक स्वास्थ्य को भी बेहतर बनाया जा सकता है। बच्चों के मोटापे को कंट्रोल करने के लिए वृक्षासन बेहद उपयोगी है। आइए जानते हैं कि इस आसन को कैसे करें और उनके फायदे भी जानें।

वृक्षासन:

बच्चों से लेकर बड़े लोगों तक के लिए वृक्षासन बेहद मुफीद है। यह आसन वृक्ष पर अधारित है। जिस तरह वृक्ष जमीन में जड़ों को समाहित कर तने को मजबूती देता है, ठीक उसी तरह यह आसन भी जमीन पर अपना बैलेंस बनाकर पूरे शरीर को मजबूती देता है। इस आसन को करते समय बॉडी को बैलंस में रखें। इसे करने से बच्चे में एकाग्रता बढ़ती है साथ ही बच्चे का मन भी ठीक रहता है।

  • वृक्षासन करने के लिए आप सबसे पहले सीधी मुद्रा में खड़े हो जाएं।
  • फिर, दोनों हाथों को पैरों के पास रखें। अब अपने दाहिने पैर को मोड़ें और बाहिने पैर के घुटने के पास ले जाकर रखें।
  • फिर, धीरे-धीरे एक गहरी सांस लें और अपने दोनों हाथों को जोड़कर धीरे-धीरे सिर के ऊपर ले जाएं।
  • दोनों हथेलियों को जोड़े और नमस्कार की मुद्रा बनाएं। अब फिर से एक गहरी सांस ले और जितना हो सके उतनी गहरी सांसें लें।
  • फिर, धीरे-धीरे सांस छोड़ें और शरीर को भी आरामदायक मुद्रा में आने दें।

वृक्षासन के फायदे:

यह एक ऐसा योगासन है जिसके अभ्यास में बच्चों को मज़ा आता है। वृक्षासन करने से बच्चों की टांगे, घुटने और पीठ के मसल्स मज़बूत बनते हैं। वृक्षासन के अभ्यास से मन में डर की भावना कम होती है। 

Edited By: Shahina Soni Noor