तरह-तरह की सुविधाओं ने जहां लोगों के जीवन को आसान बनाने का काम किया तो वहीं उन्हें कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का भी शिकार बनाया। ब्लड प्रेशर, डायबिटीज़, मोटापा तो अब आम समस्याएं बन चुकी हैं जिससे सिर्फ बड़े ही नहीं बच्चों भी प्रभावित हो रहे हैं। तो अगर आप इन प्रॉब्लम्स को कंट्रोल करने के लिए दवाइयों का सेवन करते हैं तो इसका मतलब ये कतई न समझें कि दवाइयां खाते हैं तो इसकी एवज में जो मर्जी वो खा सकते हैं। तो डायबिटीज और ब्लड प्रेशर के मरीजों को दवाइयों के साथ किस तरह के एतिहात बरतने चाहिए, आज हम इस बारे में जानने वाले हैं।

ब्लडप्रेशर के मरीज बरतें ये सावधानियां

बहुत ज्यादा मात्रा में नमक का सेवन करते हैं तो इसे तुरंत बंद करें।

पैक्ड फूड, बेक्ड फूड, ब्रेड, बिस्किट और नमकीन चीज़ों को भी अपनी डाइट से आउट करें।

ज्यादा नमक का सेवन शरीर में पानी की मात्रा को बढ़ा देता है, जिससे किडनी पर प्रेशर पड़ने लगता है। 

क्या हो सकता है नुक़सान

ब्लडप्रेशर की दवाइयों के साथ नमक के सेवन को कंट्रोल नहीं किया गया तो हार्ट की आर्टरीज़ पर दबाव बढ़ जाता है जिससे वो डैमेज या ब्लॉक हो सकती हैं।

इसके अलावा किडनी फेल्योर का ख़तरा बढ़ जाता है।

सलाह 

ब्लडप्रेशर की दवाइयों का सेवन करते हैं तो ऐसे में केला और नारियल पानी का सेवन करें जो कई तरह से फायदेमंद है। 

डायबिटीज़ के मरीज बरतें ये सावधानियां

डायबिटीज़ की दवाइयों खाते हैं तो एल्कोहल पीना पूरी तरह से अवॉयड करें। 

दवाइयों के सेवन के साथ एल्कोहल पीने से लिवर पर प्रेशर पड़ता है, जिससे दवाइयां असर ही नहीं करती।

क्या हो सकता है नुक़सान

एल्कोहल पीने से सुस्ती बनी रहती है। शरीर में पानी की कमी हो जाती है। 

सलाह

डायबिटीज़ है तो कभी भी खाली पेट एल्कोहल का सेवन न करें। 

साथ ही ब्रेड, बिस्किट और मठरी जैसी चीज़ें बिल्कुल भी न खाएं।

Edited By: Priyanka Singh