नई दिल्ली, जेएनएन। Dengue In Infants: पिछले कुछ सालों में मच्छरों से होने वाली बीमारियां लगातार और तेज़ी से फैल रही हैं। खासकर देश भर में बारिश का मौसम आते ही डेंगू, मलेरिया, जीका, चिकनगुनिया, पीला बुखार जैसी जानलेवा बीमारियां फैलना शुरू हो जाती हैं। बच्चे और बूढ़ें इन बीमारियों के शिकार जल्दी हो जाते हैं। 

इनमें सबसे आम बीमारी है डेंगू जो हर साल हज़ारों लोगों की मौत की बड़ी वजह भी है। ये इसलिए इतनी खतरनाक बीमारी है क्योंकि डेंगू के शुरुआती लक्षण लगभग न के बराबर दिखते हैं, खासकर अगर मामला बच्चों का हो। डेंगू के मच्छर के काटने के चार दिन बाद संक्रमण बढ़ने के लक्षण दिखते हैं इसलिए छोटे बच्चों में इसके लक्षण और भी गंभीर हो जाते हैं।

अगर बच्चों में डेंगू के लक्षणों को पहचानना है तो इन बातों पर रखें नज़रें! 

फ्लू जैसी बीमारी 

अगर आपका बच्चा बहती नाक और खांसी के साथ तेज़ बुखार से पीड़ित है तो यह डेंगू के लक्षणों में से एक हो सकता है। हालांकि ये लक्षण सामान फ्लू के भी हैं। हालांकि, 24 घंटे में भी अगर बुखार नहीं उतरता तो चाइल्ड स्पेशलिस्ट को ज़रूर दिखाएं।

व्यवहार में परिवर्तन 

वयस्कों की तुलना में, बच्चे यह समझने में असमर्थ होते हैं कि वास्तव में उनके साथ क्या हो रहा है। इससे वह चिड़चिड़े और उत्तेजित होने लगते हैं। वे नखरे करेंगे और अक्सर आप देखेंगे कि वे खाने से परहेज़ करेंगे।

गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याएं 

जी मिचलाना, उल्टी आदि जैसे लक्षण, जिन्हें गलती से गैस्ट्रोएंटेरिटिस भी समझा जा सकता है। वे पेट में भी तेज़ दर्द का अनुभव कर सकते हैं।

शारीरिक कष्ट 

डेंगू से प्रभावित बच्चे गंभीर जोड़ों के दर्द, पीठ में दर्द और सिरदर्द इत्यादि का अनुभव करते हैं। अपने बच्चे से यह समझने के लिए बात करते रहें कि उन्हें क्या हो रहा है ताकि आप डॉक्टर को अच्छी तरह से समझा सकें।

त्वचा की समस्याएं 

बच्चों को डेंगू से संक्रमित होने पर सबसे आम समस्याओं में से एक है त्वचा पर चकत्ते या लाल दाने निकलना। यह खसरे की तरह पैच में दिखाई देता है। लगातार खुजली डेंगू का एक और लक्षण है।

रक्तस्राव 

प्लेटलेट काउंट के कम होने की वजह से, बच्चों के मसूड़ों और नाक से रक्तस्राव होता है। ऐसे मामलों में तत्काल उपाय किए जाने की आवश्यकता है क्योंकि कुछ मामलों में यह रक्तस्रावी बुखार या शॉक सिंड्रोम जैसी स्थिति घातक हो सकती है।

Posted By: Ruhee Parvez

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप