नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। पिछले दो सालों में जो लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हुए उनमें तीन बड़े लक्षण नज़र आए- तेज़ बुख़ार, नई और लगातार खांसी होना और स्वाद व सुगंध की हानी होना। हालांकि, कोविड के नए वेरिएंट के आने से लक्षणों में भी अंतर देखा जा रहा है। अब इन तीन लक्षणों के अलावा मरीज़ों में कोविड-19 के अन्य कई लक्षण देखने को मिल रहे हैं, जिसकी वजह से शुरुआती संकेतों के आधार पर इंफेक्शन का पता लगाना मुश्किल हो रहा है।

ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर दिखते हैं ऐसे लक्षण

ओमिक्रॉन में लोगों को ठंड लगती है और नीचे दिए गए लक्षणों का अनुभव भी कर सकते हैं:

-नाक बहना

-सिर दर्द

-छींकना

-गले में ख़राश

-लगातार खांसी

-बुख़ार

-स्वाद और सुगंध की हानी

इसके अलावा कुछ ऐसे भी संकेत हैं, जो आमतौर पर श्वसन प्रणाली से जुड़े नहीं होते और अक्सर किसी का ध्यान नहीं जाता है।

त्वचा पर चकत्ते

एलर्जी या कठोर तापमान और यहां तक ​​कि संक्रमण के संपर्क में आने जैसे कई कारणों से त्वचा पर चकत्ते हो सकते हैं। कोरोना वायरस संक्रमण से त्वचा, उंगलियों, पैर की उंगलियों, मुंह और जीभ पर चकत्ते हो सकते हैं। यह कई लोगों में देखे गए ओमिक्रोन के लक्षणों में से एक है।

बेसुधी

बेसुधी मानसिक क्षमताओं में गड़बड़ी है, जो सोच में भ्रम पैदा कर सकती है और जागरूकता पर असर कर सकती है। यह स्थिति कोविड से भी जुड़ी हुई है और मुख्य रूप से वृद्ध वयस्कों में देखी जाती है। इसके लक्षण वायरस से संक्रमित होने के बाद अचानक और कुछ दिनों के अंदर प्रकट होते हैं।

भूख न लगना

तीन में से एक कोविड-19 पॉज़ीटिव लोग भूख न लगने की शिकायत करते हैं। कोरोना वायरस होने पर उन्हें एक हफ्ते तक भूख न लगने की समस्या से जूझना पड़ सकता है। जिसकी वजह से वज़न घटने लगता है और कमज़ोरी होने लगती है। साथ ही कोविड संक्रमण के दौरान खाना न खाने से मरीज़ की रिकवरी में दिक्कतें आ सकती हैं।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Edited By: Ruhee Parvez