नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Coronavirus Masks: चीन सहित कई देशों के बाद अब भारत में भी जानलेवा कोरोना वायरस ने दस्तक दे दी है। दो नागरिकों में इसकी पुष्टि हुई है। एक पीड़ित दिल्ली का रहने वाला है और दूसरा तेलांगना। दिल्ली में रहने वाले मरीज़ ने हाल में इटली की यात्रा की थी। उसके दोनों बच्चे नोएडा के श्रीराम मिलेनियम स्कूल में पढ़ते हैं। इस स्कूल को एतिहातन बंद कर दिया गया है। वायरस से पीड़ित युवक के बच्चों की जांच भी की गई है, बच्चों में बीमारी के लक्षण नहीं मिले हैं। स्कूल के पांच बच्चों को उनके घरों में आइसोलेट भी किया गया है।

ये ख़तरनाक संक्रामक बीमारी दुनिया भर में आतंक का कारण बन रही है और WHO ने कोरोनो वायरस के प्रकोप को पहले ही सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित कर दिया है। नोवेल कोरोना वायरस की चपेट में अभी तक 91 हज़ार से ज़्यादा लोग आ चुके हैं, जबकि 3 हज़ार से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। इसलिए, इस बात से इनकार नहीं किया जाता है कि यह बीमारी दुनिया भर के लिए गंभीर ख़तरा है। जैसे-जैसे कोरोना वायरस का डर फैलता जा रहा है, वैसे-वैसे दुनिया भर में, खासकर चीन में मास्क की बिक्री में तेज़ी से बढ़ी है।

क्या कोरोना वायरस के खिलाफ मास्क असरदार हैं?

WHO के अनुसार, यह बीमारी वायरल बूंदों के माध्यम से फैल सकती है, जो किसी व्यक्ति के मुंह से खांसने, छींकने और यहां तक ​​कि बात करने के दौरान निकलती है। तो इसलिए अगर आप कोरोना वायरस से बचने के लिए मास्क खरीदना चाह रहे हैं, तो आप अकेले नहीं हैं।

जैसे-जैसे अधिक से अधिक लोग मास्क खरीदने के लिए दौड़ पड़ेंगे, तो इससे एक ऐसी स्थिति पैदा हो जाएगी जहां स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं को मास्क की कमी का सामना करना पड़ेगा। इसलिए ये समझना बेहद ज़रूरी है कि मास्क कोरोना वायरस से बचने के लिए ज़रूरी है भी या नहीं। 

दुनिया भर के विशेषज्ञों ने मास्क के उपयोग के खिलाफ ज़ोर दिया है अगर आप:

1. मेडिकल वर्कर नहीं हैं। 

2.COVID-19 से संक्रमित नहीं हैं।

3. संक्रमित रोगियों के निकट संपर्क में नहीं हैं। 

4. कोरोना वायरस से पीड़ित मरीज़ की देखभाल नहीं कर रहे हैं। 

5. ऐसी जगह नहीं रह रहे जहां ये जानलेवा संक्रमण तेज़ी से फैल रहा है।

6. फ्लू जैसे लक्षण नहीं हैं। 

सिर्फ मास्क ही नहीं है बचाव 

अगर आपको फ्लू या जुकाम जैसे लक्षण दिख रहे हैं, तो मास्क पहनने से आप इसे फैलने से रोक सकते हैं, लेकिन ये कोरोना वायरस से बचने का सीधा तरीका नहीं है। ऐसा इसलिए, क्योंकि ज़्यादातर लोगों को इसे सही तरीके से पहनना नहीं आता, जिसकी वजह से लीकेज हो सकती है। यहां तक कि लोग दिन में खाने-पीने के लिए कई बार मास्क को निकालते हैं।  

क्या है N95 मास्क पहनने का सही तरीका

ध्यान रखें कि मास्त आपके मुंह और नाक के आसपास अच्छी तरह से फिट है और हवा के जाने के लिए जगह नहीं है। मास्क को सारा दिन पहने रखें और बार-बार न छुएं। इन मेडिकल मास्क पर N95, FFP2 जैसी रेटिंग होनी चाहिए।

Posted By: Ruhee Parvez

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस