नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Eye Care During Monsoon: मॉनसून आने के साथ कई तरह के इंफेक्शन और बीमारियां भी साथ आती हैं। हवा में नमी बढ़ने के कारण इस दौरान वायरल इंफेक्शन काफी बढ़ जाता है, इसलिए हमें इस दौरान सावधानियां बरतनी चाहिए। क्योंकि आंखें सबसे कमज़ोर होती हैं, इसलिए उनमें संक्रमण या बीमारियों का जोखिम बढ़ जाता है। अगर आंखों की सफाई में ज़रा भी ढिलाई की जाए, तो आपको गंभीर संक्रमण हो सकता है।

इस मौसम में कन्जंगक्टवाइटिस, कॉर्नियल अल्सर, ड्राई आंखें और स्टाई आदि जैसे इंफेक्शन आम होते हैं। इन इंफेक्शन को गंभीरता से न लिया जाए तो इनसे आंखों की रौशनी भी जा सकती है। बारिश के मौसम में होने वाले कुछ सबसे आम संक्रमणों में आंखों का लाल होना, आंखों में जलन और सूजन शामिल हैं। हालांकि, आप कुछ सावधानियों का पालन करें तो इन बीमारियों से खुद को बचा सकते हैं।

शार्प साईट आई हॉस्पिटल्स में सीनियर कंसलटेंट डॉ. हेम शाह ने आंखों को स्वस्थ रखने के लिए हमारे साथ कुछ टिप्स शेयर किएं:

- धूल भरी आंधी से बचकर रहें। आंधी में सनग्लासेज़ का उपयोग आपकी आंखों को धूल से बचा सकता है। इससे आप इंफेक्शन से बच सकेंगे।

- अगर आप कॉनटेक्ट लेंसेज़ का उपयोग करते हैं, तो हमेशा उसे साफ करने की आदत डालें। बिना साफ किए बार-बार लेंसेज़ पहनने से आंखों में इंफेक्शन हो सकता है।

- आंखों को हल्के हाथों से पानी से साफ करें। ध्यान रखें कि आंखों पर पानी के छीटें न मारें, इससे प्राकृतिक टियर फिल्म को नुकसान पहुंचता है।

- वायरस या बैक्टीरिया के इंफेक्शन को फैलने से रोकने के लिए अपने तौलिए या नैप्किन किसी और के साथ शेयर न करें। वहीं, डॉ. गगनजीत सिंह गुजराल का कहना है कि:

- आइमेक-अप किट्स का ध्यान रखें, इससे आइ इंफेक्शन आसानी से हो सकता है। इस मौसम में मसकारा और कोजल का उपयोग करने से बचें। साथ ही मेकअप को मॉइश्चर से बचाने के लिए अच्छी तरह सील करके रखना चाहिए।

- आंखों में तकलीफ होने पर खुद का इलाज करने से बचें। इससे आपका इंफेक्शन बढ़ सकता है।

Edited By: Ruhee Parvez