नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Exercises for PCOS: आजकल महिलाओं के बीच पीसीओएस यानी पॉलीसिस्टक ओवरी सिंड्रोम की प्रॉब्लम आम बात हो गई है लेकिन ये उनके लिए बहुत ही बड़ी परेशानी है। लेकिन जो एक बात थोड़ी राहत देने वाली है वो यह कि आप संतुलित खानपान और कुछ चुनिंदा एक्सरसाइज की मदद से इसे कंट्रोल जरूर कर सकती हैं। जानते हैं इस समस्या में कारगर साबित होने वाली कुछ खास एक्सरसाइज के बारे में...

स्ट्रेंथ ट्रेनिंग

स्ट्रेंथ ट्रेनिंग की मदद से मांसपेशियां तो मजबूत होती ही हैं, लेकिन साथ ही साथ ये तनाव दूर करने में भी मददगार है। रोजाना स्ट्रेथ ट्रेनिंग करने से महिलाओं में प्रजनन से जुड़ी समस्याओं से काफी हद तक छुटकारा पाया जा सकता है, लेकिन अगर आप गलत तरीके से वर्कआउट करती हैं, तो इससे शरीर में टेस्टोस्टेरोन का स्तर बढ़ सकता है, तो ध्यान दें।

जुंबा एक्सरसाइज

नो डाउट जुंबा एक्सरसाइज बहुत ही मजेदार एक्सरसाइज में से एक है। जिसे इसे अपने फ्री टाइम में बिना किसी टेंशन के कर सकती हैं। जुंबा एक्सरसाइज करने से मोटापे की समस्या भी आसानी से कम हो सकती हैं और पीरियड्स से संबंधित परेशानियों भी काफी हद तक ठीक हो सकती हैं। जुंबा डांस से शरीर लचीला और फिट बना रहता है। वजन कम करने से जिन महिलाओं को कंसीव करने में प्रॉब्लम हो रही है उन्हें कंसीव करने में भी हेल्प मिलेगी।

स्विमिंग

स्विमिंग एक बेहद असरदार एक्सरसाइज में से एक है। इस एक्सरसाइज को करने से शरीर में ब्लड का सर्कुलेशन तेज होने के साथ-साथ सांसों की परेशानी में भी आराम मिलता है। सप्ताह में केवल 3-4 दिन ही एक्सरसाइज करने से आपको काफी रिलैक्स महसूस होगा और आप अंदर से हेल्दी महसूस करने लगेंगी।

योगा

स्वस्थ और खुश रहने के लिए आपको अपनी दिनचर्या में योग को जरूर शामिल करना चाहिए, यह पीसीओएस के कारण होने वाले हार्मोनल असंतुलन को ठीक कर सकता है। यह पेल्विक क्षेत्र में ब्लड सर्कुलेशन को सही करता है और पीरियड्स की समस्या से भी निजात दिला सकता है। इससे आपका तनाव और स्ट्रेस भी कम होता है और आप पूरे दिन ऊर्जावान महसूस करती हैं। आप अपनी प्रजनन क्षमता बढ़ाने के लिए भ्रामरी प्राणायाम, विपरीतकर्णी, पश्चिमोत्तानासन और भुजंगासन जैसे आसनों को करने की कोशिश कर सकते हैं। 

Pic credit- pexels

Edited By: Priyanka Singh