अगर आप कंप्यूटर वगैरह पर दिन में कई घंटे बिताते हैं, तो आपकी कलाइयों और हाथों में दर्द हो सकता है। ऐसे रूटीन की वजह से अकड़न भी होती है और इंजरी होने के चांस भी बढ़ जाते हैं। हालांकि, कुछ ऐसी स्ट्रेचिंग एक्सरसाइजेस भी मौजूद हैं जिन्हें अपने डेली रूटीन में जगह देकर आप अपनी कलाइयों और हाथों को मजबूत रख सकते हैं।

क्लेंच्ड फिस्ट स्ट्रेच

- इसे करने के लिए सबसे पहले बैठते हुए अपने हाथों को जांघों पर ऊपर की ओर रखें।

- अब धीरे-धीरे अपने हाथों की मुट्ठी बंद कर लें, पर ध्यान रहे कि इसे ज्यादा टाइट न रखें।

- अब कलाइयों को थोड़ा मोड़ते हुए हाथों को ऊपर की ओर उठाएं जिससे वे अपने शरीर से टच में न रहें।

- कुछ वक्त के बाद उन्हें वापस जांघों पर ले जाएं।

- इस पोजीशन को आप 10 सेंकेंड्स तक होल्ड कर सकते हैं।

- इसे 10 बार रिपीट करें।

एक्सटेंडेड आर्म्स स्ट्रेच

- बाजू को आगे की ओर फैला लें और हथेलियां ऊपर करें।

- अब अपने खाली वाले हाथ के साथ उंगलियों को जमीन की ओर स्ट्रेच करने की कोशिश करें।

- अब कुछ वक्त बाद उंगलियों को शरीर की ओर कर लें।

- इस पोजीशन को 10 से 30 सेकेंड्स तक रोककर रखा जा सकता है।

डेस्क प्रेस स्ट्रेच

- कुर्सी पर बैठें और अपने सामने एक चेयर या फिर मेज रख लें। अब हाथों को उस मेज के नीचे लाएं और ऊपर की ओर खोलकर रखें।

- हाथों से मेज का बॉटम प्रेस करने की कोशिश करें।

- इस एक्सरसाइज को 5 से 10 सेकेंड्स के लिए करें और कई बार दोहराएं।

ईगल आर्म्स स्ट्रेच

- हाथों को आगे की ओर बढ़ा लें जिससे वे जमीन के पैरलल हो जाएं।

- अब दाएं बाजू को बाएं बाजू पर क्रॉस कर लें।

- अब कोहनी को थोड़ा बेंड कर लें, फिर दाईं कोहनी को बाएं के साथ मिलाएं जिससे दोनों एक-दूसरे से टच हों।

- दाईं बाजू को दाईं ओर और बाएं बाजू को बाईं ओर मूव करें।

- हथेलियां एक-दूसरे के आमने-सामने हों।

- अब कोहनी को ऊपर उठाएं और उंगलियों को स्ट्रेच करें।

- इस पोजीशन में 30 सेकेंड्स तक बने रहें।

Pic credit- freepik

Edited By: Priyanka Singh