नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Benefits Of Eating Eggs Everyday: हमें यकीन है कि आपने वह विज्ञापन ज़रूर देखा होगा, जिसमें एक शख्य अपने पोते को समझाते हुए कि 'संडे हो या मंडे, रोज़ खाओ अंडे', कहते हैं कि अंडे खाने की वजह से ही वह तंदरुस्त रहते हैं। 

चाहे, उबले हुए, पोच्ड या फिर स्क्रैमबल्ड हों, कई लोगों के लिए अंडा रोज़ का हेल्दी नाश्ता होता है। वहीं, कई ऐसे भी लोग हैं जिनका मानना है कि अंडे की ज़र्दी में बड़ी मात्रा में कोलेस्ट्रोल मौजूद होता है जो सेहत के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। ऐसे में एक्सपर्ट्स का मानना है कि सही मात्रा में अंडे खाना नुकसान नहीं पहुंचाएगा।

आज हम बता रहे हैं कि रोज़ाना दो अंडे खाने से आपके शरीर को क्या-क्या फायदे पहुंचते हैं।

कैसे कोलेस्ट्रोल पर पड़ेगा असर

एक अंडे में 186 मिलिग्राम कोलेस्ट्रोल होता है। हालांकि, अंडे 70 प्रतिशत लोगों में कोलेस्ट्रोल नहीं बढ़ाते, वहीं 30 प्रतिशत हाइपर रिस्पॉनडर्स लोग, कोलेस्ट्रोल में कुछ बढ़त देख सकते हैं। एक अच्छी बात ये है कि अंडे खाने से शरीर में हाई-डेंसिटी लिपोप्रोट्रीन (HDL) की मात्रा बढ़ती है, जो अच्छा कोलेस्ट्रोल माना जाता है। जिन लोगों के शरीर में HDL की अच्छी मात्रा होती है, उन्हें दिल का दौरा या दिल से जुड़ी बीमारी होने का ख़तरा कम हो जाता है। 

सेहतमंद त्वचा, बाल और नाख़ून

अंडे विटामिन-बी से भरपूर होते हैं, इसके अलावा इसमें विटामिन बी12, बायोटिन, रिबोफ्लाविन, थियामिन और सेलेनियम भी मौजूद होता है। ये सभी विटामिन अच्छे बालों, त्वचा और नाखूनों के लिए ज़रूरी होते हैं। 

प्रतिरक्षा प्रणाली को मज़बूत करता है

दो अंडों में 56 प्रतिशत सेलेनियम, 32 प्रतिशत विटामिन-ए और 14 प्रतिशत आयरन होता है। ये सभी पोषक तत्व साथ मिलकर प्रतिरक्षा प्रणाली को मज़बूत बनाते हैं। ज़ुकाम और फ्लू से बचाव के लिए अंडों से बेहतर और कुछ नहीं हो सकता।

आंखों की रौशनी बढ़ती है

अंडों में पाए जाने वाले दो एंटीऑक्सीडेंट ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन भी आंख के मैक्युलर क्षेत्र में पाए जाते हैं। अध्ययनों में पाया गया है कि ल्यूटिन, ज़ेक्सैंथिन और ओमेगा-3, जो अंडों में भी पाए जाते हैं, आपकी आंखों के स्वास्थ्य को बनाए रखने में आवश्यक भूमिका निभाते हैं।

​याददाश्त में सुधार

अंडों में खास विटामिन पदार्थ कोलीन होता है, जो वसा को चयापचय में मदद करता है, स्वस्थ कोशिका झिल्ली को बनाए रखता है और दिमाग़ के काम और याददाश्त में सुधार करता है। आमतौर पर खाए जाने वाले अन्य खाद्य पदार्थों में कोलीन मिलना मुश्किल है।

गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद

कॉर्नेल विश्वविद्यालय के एक अध्ययन के अनुसार, गर्भावस्था के दौरान कोलीन के उचित सेवन से शिशुओं में मस्तिष्क की कार्यक्षमता और प्रतिक्रिया की गति में सुधार हो सकता है।

अंडों में होता है विटामिन-डी

भारत में ज़्यादातर लोगों में विटामिन-डी की कमी पाई जाती है। अंडों में मौजूद विटामिन-डी की मदद से शरीर कैलशियम को बेहतर तरीके से सोखेगा, जिससे हड्डियां और दांत हेल्दी रहते हैं।

मांसपेशियां बनाने में मदद 

एक अंडे में 6 ग्राम प्रोटीन होता है, इसी वजह से ये वर्कआउट के बाद खाया जाने वाला बेस्ट स्नैक माना जाता है। आपको बता दें कि सिर्फ सफेदी खाने की तुलना में पूरा अंडा खाने से आपको मसल्स बनाने और हड्डियों को मज़बूत बनाने में ज़्यादा मदद मिलेगी। 

RBC बनाने में मदद

अंडों में फोलेट की काफी मात्रा होती है। फोलेट एक तरह का विटामिन-बी है, जो लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में मदद करता है। गर्भावस्था के दौरान इस पोषक तत्व का सेवन ज़रूरी है क्योंकि यह भ्रूण के विकास और वृद्धि के लिए वास्तव में महत्वपूर्ण है। 

Posted By: Ruhee Parvez

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस