नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Covid-19 Vaccine: कोरोना वायरस के खिलाफ देश में आज से वैक्सीन का दूसरा चरण शुरू हो चुका है। पहले चरण में मेडिकल केयर और फ्रंटलाइन वर्कर्ज़ को वैक्सीन लगाई गई थी, वहीं अब 60 साल से ऊपर के लोगों को लगाई जाएगी। साथ ही वे लोग जिनकी उम्र 45 साल से ज़्यादा है, लेकिन गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं, वे भी दूसरे चरण में वैक्सीन लगवा पाएंगे। 

इस चरण में टीके सरकारी अस्पतालों के साथ-साथ निजी अस्पतालों में भी लगाए जा रहे हैं। सरकार द्वारा बनाए गए सेंटर्स में जहां वैक्सीन मुफ्त में लगाई जा रही है, वहीं निजी अस्पतालों में प्रति खुराक 250 रुपये शुल्क लिया जा रहा है। केंद्र सरकार ने उन 20 बीमारियों की लिस्ट जारी की, जिनमें से किसी शख्स को एक भी बीमारी है और उसकी उम्र 45 साल या उससे ऊपर है, तो वह भी कोरोना की वैक्सीन लगवा सकता है। 

गंभीर रोगों के दायरे में आती हैं ये 20 बीमारियां 

1. हार्ट फेलियर की वजह से पिछले एक साल में अस्पताल में भर्ती होना पड़ा हो। 

2. कार्डियेक ट्रांसप्लांट हुआ हो या फिर लेफ्ट वेंट्रिकुलर असिस्ट डिवाइस (LVAD) लगी हो।

3. सिग्निफिकेंट लेफ्ट वेंट्रीकुलर सिस्टोलिक डिस्फंक्शन

4. मॉडरेट या गंभीर वेल्वुलर हार्ट डिसीज़

5. डायबिटीज़ (10 साल से ज़्यादा वक्त से या जटिलताओं के साथ) और हाइपरटेंशन

6. किडनी/लीवर/हेमैटोपोएटिक स्टेम सेल ट्रांसप्लांट कराने वाले या इसकी वेट लिस्ट में शामिल

7. एंड स्टेज किडनी डिसीज़ ऑन हैमोडायलिसिस/सीएपीडी

8. लंबे वक्त से ओरल कोर्टिकोस्टेरॉयड्स का इस्तेमाल/इम्यूनिटी को कम करने वाली दवाइयों का इस्तेमाल करने वाले।

9. डिकंपेन्सेटेड सिरोसिस

10. कंजेनिटल हार्ट डिसीज़ विद सिवियर पीएएच ऑर इडियोपैथिक पीएएच

11. कोरोनरी आर्टरी डिसीज़ (सीएबीजी/PTCA/MI की हिस्ट्री के साथ) और हाइपरटेंशन/डायबिटीज़ जिसका इलाज चल रहा हो।

12. एन्गिना और हाइपरटेंशन/डायबिटीज़ ट्रीटमेंट

13. स्ट्रोक (CT/MRI टेस्ट में) और हाइपरटेंशन/डायबिटीज़

14. पल्मोनरी आर्टरी हाइपरटेंशन और हाइपरटेंशन/डायबिटीज़

15. प्राइमरी इम्यूनोडिफिएंसी डिसीज़/एचआईवी संक्रमण

16. अपंगता जैसे इंटेलेक्चुअल डिसेबिलिटीज़/मस्कुलर डिस्ट्रोफी/एसिड अटैक से श्वसन तंत्र का प्रभावित होना/ दिव्यांग व्यक्ति/अंधापन-बहरापन।

17. पिछले दो सालों में सांस से गंभीर बीमारी की वजह से कभी अस्पताल में भर्ती हुए हों।

18. लिम्फोमा/ल्यूकीमिया/मायलोमा

19. एक जुलाई 2020 या उसके बाद जांच में किसी तरह के कैंसर की पुष्टि या कोई कैंसर थेरेपी चल रही हो।

20. सिकल सेल डिसीज़/बोन मैरो फेलियर/एप्लास्टिक एनीमिया/थैलासेमिया मेजर

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021