नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Coronavirus & Gym: आज की भागती दौड़ती और बिज़ी ज़िंदगी में ज़रूर है कि सभी अपनी सेहत का खास ध्यान रखें। चाहे रोज़ाना रनिंग करें या फिर जिम जाते हों, किसी न किसी तरह का वर्कआउट सबके लिए ज़रूरी होता है। लेकिन आजकल दुनिया भर में तेज़ी से फैल रहे कोरोना वायरस की वजह से एक सवाल जो सभी जिम जाने वालों के दिमाग़ में है वह है कि ऐसे समय में जिम जाना कितना सुरक्षित है?  

वैसे तो पसीने से कोरोना वायरस नहीं फैलता है, लेकिन ये बारबेल्स या डम्बेल के ज़रिए ज़रूर फैल सकता है। साथ ही अगर आप ऐसी लोकेलिटी में रहते हैं जहां कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं, तो ऐसे में आपको सतर्क रहने की ज़रूरत है और जिम न जाकर घर पर ही एक्सरसाइज़ करना बेहतर हो सकता है।  

वैज्ञानिक आज भी ये पता लगाने की कोशिश में जुटे हैं कि आखिर ये वायरस कैसे फैल रहा है। लेकिन इसके बावजूद कुछ बातें साफ हैं कि हाथ मिलाने या फिर इंफेक्शन के संपर्क में आने से फैलता है। एक रिसर्च में पाया गया है कि कोरोना वायरस मेटल, ग्लास और प्लास्टिक पर करीब दो घंटों से लेकर 9 दिन तक रह सकता है। मेट्रो के हैंडल या फिर दरवाज़े का हैंडल जैसी चीज़ों को छूना खतरा बन सकता है।  

ऐसे उपकरणों का ध्यान रखें जिन्हें कई बार छुआ जा रहा हो

कोरोना वायरस के फैलने से फिटनेस फ्रीक भी जिम में मौजूद उपकरणों को छूने से पहले कई बार सोच रहे हैं। हालांकि, डॉक्टर का मानना है कि जिम से ज़्यादा चर्च जैसी जगाहों पर कोरोना वायरस के फैलने का खतरा ज़्यादा है क्योंकि जिम में सभी अपना वर्कआउट करते हैं जबकि चर्च में मिलना जुलना और हाथ मिलाना होता है।

इससे कैसे बचें

एक्सपर्ट्स की मानें तो जिम में भी लोगों से ज़्यादा से ज़्यादा दूरी बनाए रखें। इसका मतलब ये नहीं कि वर्कआउट करना ही बंद कर दें। आप जिम सतर्क रहें और सभी उपकरणों को इस्तेमाल करने से पहले साफ कर लें। हो सके तो ग्लव्ज़ का भा इस्तेमाल कर सकते हैं।

साफ-सफाई का रखें ध्यान

जिम में वर्कआउट करने से पहले और बाद दोनों वक्त हाथों को अच्छे से धो लें। साथ ही स्टीम रूम में जाने से बचें। 

Posted By: Ruhee Parvez

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस