कोरोना जितना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। उससे ज्यादा लोगों में उसका डर है। इस घातक वायरस से निपटने के लिए अलग-अलग देश तरह-तरह के प्रयास कर रहे हैं तो विशेषज्ञ सावधानी को ही सबसे बड़ा उपाय मान रहे हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने स्वच्छता के तरीकों और उसके कारणों को लेकर एडवाइजरी जारी की है। साथ ही कोरोना की दशहत से उबरने की राह भी बताई है।

तुरंत डाक्टर से मिलें

अगर स्वस्थ हैं तो घर पर ही रहें। बुखार, खांसी या सांस लेने में समस्या है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। ऐसा करके आप खुद को व बाकी लोगों को संक्रमण से बचा सकते हैं।

बातचीत में करीब एक मीटर की रखें दूरी

अगर किसी व्यक्ति को खांसी या जुकाम है तो उससे बातचीत के समय कम से कम एक मीटर की दूरी रखें क्योंकि छींकने या खांसने के साथ सूक्ष्म चीज़ें भी बाहर आती हैं। अगर इनमें वायरस है तो आप सांस लेने के दौरान इन्हें भी ग्रहित कर लेंगे।

रखें सावधानी 

ध्यान रखें कि आप और आसपास के लोग साफ-सफाई के प्रति जागरूर रहें। खांसी या जुकाम की स्थिति में सभी कोहनी या टिशू का इस्तेमाल करें। इससे अगर कोई व्यक्ति संक्रमित है भी तो आसपास नहीं फैलेगा।

सलाह का पालन करें

राष्ट्रीय व स्थानीय स्तर पर लागू किए जा रहे चिकित्सीय नियमों का पालन करें। डॉक्टर के संपर्क में रहें और सलाह का पालन करते रहें।

साबुन से हाथ धोएं

हाथ धोते समय साबुन का इस्तेमाल जरूर करें क्योंकि ऐसा करने से अगर हाथ में वायरस है तो नष्ट हो जाएगा।तनाव को भगाएं दूर

किसी भी बीमारी का तनाव जायज है लेकिन उससे निपटना जरूरी है। इसके लिए भी डब्ल्यूएचओ ने कुछ सुझाव दिए हैं:

दोस्तों व परिवार के संपर्क में रहें

अगर डर या तनाव की स्थिति में हैं तो विश्वनीय लोगों से बात करें। परिवार और दोस्तों के संपर्क में रहें और सही सलाह का पालन करें।

स्वस्थ जीवनशैली का पालन करें

अगर घर पर हैं तो एक हे्ल्दी लाइफस्टाइल का पालन करें। पर्याप्त नींद, खानपान और व्यायाम करें। फोन और ईमेल के जरिए लोगों के संपर्क में रहें।

एल्कोहल का सहारा न लें

तनाव से निपटने के लिए दवाओं, ध्रूमपान या एल्कोहल का सेवन न करें। ज्यादा तनाव की स्थिति में काउंसलर की मदद ले सकते हैं।

सही स्त्रोतों का प्रयोग करें

कोरोना से जुड़ी किसी भी जानकारी या सलाह के लिए सही स्त्रोतों का प्रयोग करें। इससे उचित व सटीक सलाह मिल सकेगी।

इसकी भी रखें एहतियात

मास्क का करें इस्तेमाल

1. अगर आपको खांसी या जुकाम है या किसी संक्रमित व्यक्ति की देखभाल कर रहे हों, ऐसी स्थिति में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने मास्क पहनने की सलाह दी है। साथ ही पहनते समय निम्न सावधानियां बरतने को कहा है:-

2. मास्क पहनने से पहले साबुन से अच्छी तरह हाथ साफ करें।

3. चेहरे तक पूरी तरह सटाकर पहनें।

4. मास्क को बार-बार न छुएं।

5. एक बार इस्तेमाल किया हुआ मास्क दोबारा न पहनें।

6. उतारने के बाद इसे नष्ट कर दें। कई लोग एक ही मास्क को कई-कई दिन तक लगातार रखते हैं। ऐसा कतई न करें।

न हों भ्रमित

- हैंड ड्रायर कोरोना वायरस को मारने में सक्षम नहीं है।

- एल्कोहल या क्लोरीन के छिड़काव से कोरोना वायरस को नष्ट नहीं किया जा सकता।

- चीन से आने वाले पैकेट को प्राप्त करने में कोई हानि नहीं है।

- घर पर पालतू जानवरों से कोरोना फैलने का कोई प्रमाण नहीं है।

- कोरोना से बचाव के लिए फिलहाल कोई वैक्सीन या दवा अभी निर्मित नहीं की जा सकी है।

स्त्रोत- विश्व स्वास्थ्य संगठन

 

Posted By: Priyanka Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस