क्या हैं लक्षण

जोड़ों में दर्द

सूजन

रंग बदलना

हाथ-पैरों के जोड़ों में दर्द

रात में होता है दर्द

आयुर्वेदिक इलाज

विरेचन करें, एरंड तेल गुनगुने पानी से लें, अभ्यंगम करें, निर्गुन्डी तेल, पिंड तेल, सुकुमार तेल, गुडुची तेल, अदरक का पेस्ट लगाएं, शुंठी का पानी पिएं, लहसुन शहद के साथ लें, लहसुन का पेस्ट लगाएं, गुडुची चूर्ण खाएं, गुडुची काढ़ा पिएं।

ये चूर्ण हैं फायदेमंद

नवकार्षिक चूर्ण, निम्बादि चूर्ण, चोबचीनी चूर्ण, गेहूं का चूर्ण।

ये भी आजमायें

बकरी के दूध में मिलाकर लगाएं, दशमूल साधित छीर। हरीतिकी, गुड़ के साथ खाली पेट लें। अपामार्ग का पौधा, गौ मूत्र में मिला लेप बना कर लगाएं। वरुण और शिग्रु के पेस्ट का  लेप लगाएं। गुडुची, वासा, एरंड तेल का लेप लगायें।

काढ़ा पिएं

लहसुन, लौंग,सौंफ, आैर शुंठी का काढ़ा पिएं

आजमायें ये पंचकर्मा

वस्ति

विरेचन

अभ्यंगम

स्वेदन

लेप

क्या करें

कार्बोहाइड्रेट रिच डाइट, फाइबर रिच डाइट, पानी ज्यादा पिएं, हल्का व्यायाम करें, घर का खाना, अदरक, लहसुन, हींग, जीरा, दालचीनी, धनिया, पुराना गेहूं, जौ, चावल, लाल चावल, तिन्नी का चावल, मूंग, मसूर, मोठ, चौलाई, बथुआ, मेथी, लौकी, परवल, टिंडा, योगासन, भुजंगासन, ताड़ासन, हलासन, अर्धमत्स्येन्द्रासन, पद्मासन, मड बाथ, टब बाथ। 

क्या न करें

तैलीय खाना, मिर्च-मसालेदार, खट्टा, बासी, दिन में सोना, रात में जागना, अत्यधिक व्यायाम, क्रोध, फास्टिंग, डाइटिंग, ओवर ईटिंग, दूध के साथ नमक,

जूस के साथ दूध, नॉनवेज के साथ दूध, नॉनवेज के साथ दही, राजमा, छोले, उड़द, मटर, गोभी, भिंडी, आलू, अरबी, बैंगन, गन्ने का रस, सिरका, प्रोटीन रिच डाइट न लें।

Posted By: Molly Seth

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप