नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Good Sleep Tips: अलग-अलग तरह के खाने का पाचन, आंत की सेहत, वज़न और नींद पर अलग प्रभाव पड़ता है। रात का खाना बेहद महत्वपूर्ण होता है क्योंकि आप इसके बाद सो जाते हैं और शरीर को 8 घंटों तक कुछ नहीं मिलता। जब आप सो रहे होते हैं तो आपका शरीर खाए गए भोजन को मेटाबोलाइज करता है। इसलिए रात में हल्का भोजन खाना चाहिए ताकि शरीर उसे आसानी से पचा ले और इससे एसिड रिफ्लक्स, पेट दर्द, बेचैनी या फिर भारीपन महसूस न हो और आपकी नींद न खराब हो। यही वजह है कि रात के खाने को सोच समझकर खाना चाहिए। तो इसलिए अगर आप रात में सुकून की नींद चाहते हैं, तो जानें कि रात में किस तरह के खाने से दूरी बनाना ज़रूरी है।

उच्च वसा

अगर आप वज़न घटाना चाह रहे हैं, तो बेहतर है कि रात के खाने में उच्च वसा वाले फूड्स न लें। ऐसा इसलिए क्योंकि उच्च वसा वाली खाने की चीज़ों को पचने में ज़्यादा वक्त लगता है। इस प्रकार, यह शरीर में वसा जमा करता है और वजन बढ़ाता है। इसके अलावा, ज़्यादातर मामलों में उच्च वसा वाले भोजन खाने से बेचैनी और पेट में भारीपन महसूस हो सकता है, जो नींद को प्रभावित करता है।

हाई शुगर

इसमें कोई शक़ नहीं कि रात का खाना बिना मीठे के अधूरा रहता है, लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि रात में चीनी और स्टार्च युक्त खाना खाने से ब्लड ग्लूकोज़ का स्तर बढ़ सकता है, जिसकी वजह से इंसुलिन असंतुलित हो सकता है, जो उन लोगों के लिए ख़तरा पैदा कर सकता है जिन्हें डायबिटीज़ है। साथ ही रात में स्टार्च युक्त खाना खाने से वज़न बढ़ सकता है।

​डीप फ्राइड फूड्स

हम सभी को तला हुआ खाना पसंद आता है, लेकिन रात में इसे खाना एक अच्छा विचार नहीं होगा। तेल, उच्च वसा वाले प्रोटीन और नमक के एक साथ अत्यधिक उपयोग को पचने में बहुत समय लग सकता है, जो बदले में बेचैनी, सूजन और एसिड रिफ्लक्स का कारण बनता है। इसलिए, सुनिश्चित करें कि आप शाम से पहले अपने पसंदीदा तले हुए खाद्य पदार्थ या जंक फूड का सेवन न करें ताकि आपके शरीर को पचाने के लिए पर्याप्त समय मिले और आपकी नींद खराब न हो।

मसालेदार खाना

रात में मसालेदार चटपटा खाना खाकर भले ही आपकी आत्मा तृप्त हो जाती हो, लेकिन यह उन लोगों के लिए परेशानी का सबब बन सकता है जिन्हें गैस से जुड़ी दिक्कतें हैं। रात में मसालेदार खाना खाने से खाना खाने से सीने में जलन और एसिड रीफ्लक्स की दिक्कत हो सकती है।

हाई प्रोटीन

सुनिश्चित करें कि आप प्रोटीन रात की जगह दिन में ही खाएं, क्योंकि उच्च प्रोटीन वाले खाने को पचाने में लंबा समय लगता है, और इसे रात में खा लेने से पेट में भारीपन या परेशानी हो सकती है।

Disclaimer:लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Edited By: Ruhee Parvez