ब्यूटी केयर के नाम पर हम सब सिर्फ फेस पर ही ध्यान देते हैं। लेकिन हाथ और पैरों की खूबसूरती का भला क्या? यह सवाल तब और ज्यादा बड़ा हो जाता है, जब महमारी की जगह से आप सैलून नहीं जा पा रही हैं। ऐसे में टेंशन लेने के बजाए, क्यों न घर पर ही आजमा लिए जाएं ये टिप्स...

क्लीनिंग करें कुछ ऐसे

हाथ और पैर पर भी जर्म्स का हमला होता है, जो हमारी स्किन को डैमेज कर सकते हैं। ऐसे में इन्हें एंटीसेप्टिक सोप से जरूर धोएं। इसका एक कारण यह भी है कि क्योंकि गर्मी के मौसम में पसीना भी ज्यादा आता है, इसलिए फंगल इंफेक्शन होने का खतरा भी बढ़ जाता है। लंबे वक्त तक शूज पहने हो, तो भी उतारने के बाद पैरों को एंटीसेप्टिक सोप से धोएं या फिर कुछ देर नमक पड़े गुनगुने पानी में पैरों को रखें।

एक्सफोलिएशन और मास्किंग

खूबसूरत दिखने के लिए सिर्फ आपके चेहरे को ही नहीं, बल्कि हाथों और पैरों को भी इसकी जरूरत पड़ती है। इसके लिए सबसे अच्छा तरीका है कि नींबू के रस में चीनी के दाने मिलाकर हाथों और पैरों पर स्क्रब करें या फिर शहद में नींबू मिलाकर भी लगाया जा सकता है। वहीं एलोवेरा जेल आपके लिए एक अच्छा और सूदिंग मास्क प्रूव हो सकता है।

ड्रायनेस पर दें ध्यान

हाथों और पैरों की उंगलियों के बीच अक्सर गंदगी, पानी या पसीना जम जाता है। ऐसे में कई तरह के इंफेक्शन होने का डर रहता है। इसके लिए जरूरी है कि हाथों-पैरों को क्लीन करने के बाद साफ टॉवेल से इनको पोछकर सूखा लें। वहीं अगर आपको पसीना ज्यादा आता है तो आप एंटी-बैक्टीरियल पाउडर का भी यूज कर सकते हैं।

न भूलें मॉइश्चराइजेशन

हाथों-पैरों को ड्राय करने के बाद मौसम को ध्यान में रखकर मॉइश्चराइजेशन को इग्नोर करने की गलती न करें। अगर आपकी स्किन ऑयली है तो जेल मॉइश्चराइजर का यूज आपके लिए बेहतर होगा।

फुटवेयर का सेलेक्शन हो बेस्ट

मौसम कोई भी हो फुटवेयर कंफर्टेबल होना चाहिए। जिससे कटने, छीलने के साथ ही फंगल इंफेक्शन होने का खतरा भी कम रहता है।

Pic credit- freepik

Edited By: Priyanka Singh