भारत में ज्यादातर जगहों पर अलग-अलग नामों से मकर संक्रांति का त्योहार मनाया जाता है। पंजाब में जहां लोहड़ी, बिहार, झारखंड में सक्रात, गुजरात में उत्तरायण, पश्चिम बंगाल में पौष संक्रांति तो वहीं तमिल में पोंगल नाम से जाना जाता है। बाकी त्योहारों जैसे ही मकर संक्रांति में भी तरह-तरह के पकवान बनाने, पूजा-पाठ और नए कपड़े पहनने का रिवाज़ है। खासतौर से काले कपड़े। वैसे तो ज्यादातर त्योहारों में ब्लैक कलर को पहनना अवॉयड किया जाता है लेकिन मकर संक्रांति पर इसे पहनना शुभ माना जाता है। तो किस तरह की ब्लैक साड़ी हैं इस मौके पर पहनने के लिए बेस्ट, एक नज़र डालेंगे इस पर। 
पश्चिम बंगाल की मशहूर तांत साड़ी
यह बंगाल की ट्रेडिशनल साड़ी है। जिसे शादी-ब्याह से लेकर और भी दूसरे मौकों पर पहना जाता है। लाइटवेटेड, पतले बॉर्डर और खूबसूरत प्रिंट्स वाली इन साड़ियों को पौष संक्रांति के मौके पर पहनने का आइडिया रहेगा बेस्ट।

तमिलनाडु की कांजीवरम साड़ी
दिखने में बहुत ही खूबसूरत और पहनने में रॉयल लुक देने वाली कांजीवरम है क्वीन ऑफ साड़ी। जिसे कारीगर अपने हाथों से तैयार करते हैं। ग्रेसफुल, एलीगेंट इन ट्रेडिशनल साड़ियों को आप मकर संक्रांति के मौके पर आराम से पहन सकती हैं। वैसे तो इनमें मिलने वाले कलर्स की इतनी वैराइटी होती है जो आपको कन्फ्यूज़ कर सकती हैं लेकिन इस मौके पर ब्लैक शुभ मानते हैं तो य कलर चुनें।

उड़ीसा की बोमकाई साड़ी
चूंकि मकर संक्रांति का पर्व उड़ीसा में भी मनाया जाता है तो आप इस मौके पर यहां की ट्रेडिशनल बोमकाई साड़ी पहन सकती हैं जिसे सोनपुरी सिल्क के नाम से भी जाना जाता है। बोमकाई साड़ी इकत प्रिंट और धागे से बनी बहुत ही खूबसूरत साड़ी होती है। जो सिल्क और कॉटन जैसे कम्फर्टेबल फैब्रिक में मिलती है।

मध्य प्रदेश की चंदेरी साड़ी
सिल्क, जरी और कॉटन फैब्रिक में अवेलेबल ये साड़ियां फैशनेबल और कम्फर्टेबल दोनों ही लुक के लिए हैं बेहतरीन। मकर संक्रांति के मौके पर ब्लैक कलर की चंदेरी साड़ी पहनकर पाएं हर किसी की तारीफ।

 

पंजाबी की फुलकारी साड़ी
फुलकारी मतलब फ्लोरल वर्क। तरह-तरह के रंगों वाले फूलों को फैब्रिक पर उकेरा जाता है। वैसे तो फुलकारी दुपट्टे ज्यादा ट्रेंड में हैं लेकिन आप अलग लुक के लिए फुलकारी साड़ी कैरी करें। जो आपके ओवर ऑल लुक को बनाएंगे स्टाइलिश।

बनारसी की बनारसी साड़ी
बनारसी साड़ियों में गोल्ड और सिल्वर जरी का काम देखने को मिलता है और यही इसकी खूबसूरती को बढ़ाने का काम करते हैं। और ऐसा बिल्कुल भी नहीं कि बनारसी साड़ियां सिर्फ शादी-ब्याह और खास मौकों पर भी पहनी जाती हैं आप मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर भी इसे पहन सकती हैं।

गुजराती की बांधनी साड़ी
गुजरात की टाई एंड डाई और बांधनी साड़ियों का फैशन हमेशा से ही ट्रेंड में इन रहती है। और मकर संक्रांति का अवसर तो बेस्ट है जब आप इन साड़ियों को पहनकर पा सकती हैं हर किसी का अटेंशन।

महाराष्ट की पैठनी साड़ी
पैठनी साड़ी औरंगाबाद की खासियत है। जो दिखने में काफी अच्छी और एलीगेंट लगती है। ज़री बॉर्डर, फाइन मोटिफ्स और पिकॉक डिज़ाइन वाली इन साड़ियों को पहनें मकर संक्रांति के अवसर पर। 

Posted By: Priyanka Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप