मेन्स फैशन को खास कंपार्टमेंट्स में बांधकर देखा जाता रहा है। शर्ट-ट्राउज़र्स, टी-शर्ट्स-जींस लेकिन अब ये रूल ब्रेक हो रहे हैं। अब तक सेफ ज़ोन में माने जाने वाले मेन्स फैशन को देशी-विदेशी डिज़ाइनर्स मेनस्ट्रीम में लाने की कोशिश कर रहे हैं। इसमें एक बड़ा हाथ सोशल मीडिया पर लगातार हो रहे एक्सपेरिमेंट्स का भी है।

बदलाव का दौर

पुरुष आउटफिट्स, एक्सेसरीज़ और हेयरस्टाइल में कई एक्सपेरिमेंट कर रहे हैं। पुरुषों के वॉडरोब में अब आई कैचिंग एक्सेसरीज़ और शूज़ के साथ ही वाइब्रेंट-ब्राइट कलर्स शामिल हो रहे हैं। कोई खुद को ब्लू, ग्रे, ब्लैक जैसे रंगों तक सीमित नहीं रखना चाहता, हर किसी को चेंज चाहिए, इसलिए रंगों के साथ प्रयोग हो रहे हैं। अच्छा दिखना आपकी खुशी से जुड़ा होता है। अच्छे दिखते हैं तो खुशी होती है। इसलिए बोरिंग कलर्स छोड़कर लोग नए रंग चुन रहे हैं।

एक्सपेरिमेंट का है जमाना

अब नए कलर्स और कट्स आ गए हैं। प्रिंट्स बोल्ड हो गए हैं, फैब्रिक का टेक्सचर बदल गया है जिससे लुक डिफरेंट दिखे। युवा पीढ़ी जागरूक है, एक्सपेरिमेंट्स से नहीं घबराती। आम लोग बदलते ट्रेंड्स को फॉलो करने में सोचते नहीं हैं कि ये प्रिंट या रंग पहनेंगे तो कोई जज करेगा। फैशन डिज़ाइनर्स का मानना है कि मेन्स फैशन में क्रांति आ गई है। यहां तक कि जेंडर न्यूट्रल कलर्स और पैटर्न आ रहे हैं।

फेमिनिन टच वाले कलर्स और डिज़ाइन्स भी ट्रेंड में आ रहे हैं। हाल ही में रणवीर सिंह शादी के बाद बोल्ड पिंक जैकेट में नज़र आए थे। सेलिब्रिटीज अपने खास मौकों पर अलग दिखना चाहते हैं क्योंकि वे ट्रेंड सेट करते हैं। नॉर्मली अगर आप बोल्ड आउटफिट्स चुनते हैं तो ध्यान रखें कि बोल्ड पीस के साथ दूसरी चीज़ ऐसी होनी चाहिए जो उसे बैलेंस करें।

ट्रेंड से हटकर

रैंप के कई डिज़ाइनस को आम दुनिया में जगह बनाने में कुछ वक्त लग सकता है फिर भी यंगस्टर्स फैशन के प्रति अपने अनुमान से फ्री होने लगे हैं। बॉलीवुड-हॉलीवुड सेलिब्रिटीज भी ऐसे आउटफिट्स को प्रमोट करते नज़र आते हैं जिसका असर आम लोगों पर भी पड़ता है। आज के युवा अलग रंगों, कट्स और डिज़ाइन्स का चुनाव कर रहा है।

जेंडर न्यूट्रल फैशन

पिछले कुछ सालों में मेन्स फैशन में स्कर्ट्स, फ्लोइंग गार्मेंट्स, बोल्ड कलर्स और प्रिंट्स नज़र आ रहे हैं। एक्टर्स और मॉडल्स के साथ ही आम लोगों ने भी इस नए फैशन को अपनाया है। हालांकि अभी भी यह ट्रेंड फिल्म और फैशन तक सीमित है, आम लोग इसे कम ही फॉलो कर रहे हैं।

 

कॉरपोरेट फैशन

भारतीय पुरुष अभी खास मौकों पर ही एक्सपेरिमेंट करना पसंद करते हैं। वर्कप्लेस के लिए उनके पास ज्यादा च्वॉइस नहीं। फिर भी कॉरपोरेट फैशन में बदलाव दिख रहा है। जैसे- ब्लेज़र को पॉवर यूनिफॉर्म माना जाता है, इसलिए सभी ब्रांड्स इसमें नए ट्रेंड सेट कर रहे हैं। फैब्रिक (कॉटन या निट्स) से लेकर डिफरेंट पैटर्न और स्लिमर कट्स तक कई नए अंदाज नज़र आ रहे हैं। अभी लाइटवेट ब्लेज़र के हिट होने का मतलब यह नहीं है कि कॉरपोरेट सूट आउटडेटेड हो गए हैं। कहा जा सकता है कि अब भारीभरकम वूल के बजाय सूट्स को लाइटवेट और फंक्शनल करने की कोशिश की जा रही है। लाइट लाइनिंग्स, फिटेड शेप्स, सॉफ्ट शोल्डर्स और स्लिमर लेपल्स को खासा पसंद किया जा रहा है।

Posted By: Priyanka Singh