भले ही यह टेक्सचर्ड फैब्रिक और फर का जमाना हो लेकिन फैशन बाजार एक बार फिर से भारतीय प्रिंट का कायल हो रहा है। इस समय भारतीय प्रिंट को लेकर फैशन डिज़ाइनर भी काफी काम कर रहे हैं। इसकी वजह यह है कि लंदन, न्यूयॉर्क और पेरिस फैशन वीक में भारतीय प्रिंट को पहनकर नामचीन अंतरराष्ट्रीय मॉडल्स ने रैंपवॉक किया। भारतीय डिज़ाइनर से एक बार फिर से कुछ नए फैशन से रूबरू कराने के लिए इनके साथ एक्सपेरिमेंट्स कर रहे हैं। अब यह प्रिंट फैशन में धूम मचा रहे हैं।

क्या है भारतीय प्रिंट

भारतीय प्रिंट हाथों से बनाए जाते हैं। गुजरात और राजस्थान का बांधनी, इकत, बाटिक, अजरक, कलमकारी, गुजरात का पटोला, वरक, डाबू, बागडू, गोल्ड सिल्वर खारी प्रिंट मध्य प्रदेश का बाघ प्रिंट यह सभी देश के विभिन्न राज्यों में हाथ से तैयार किए जाते हैं। इन प्रिंट्स को अबतक केवल साड़ी और सूट में ही इस्तेमाल किया जाता था लेकिन अब इससे ट्रेंडी ड्रेस, टॉप और गाउन भी बनाए जा रहे हैं। यहां तक कि ब्राइडल लहंगा और ब्लाउज से लेकर स्टाइलिश टॉप, शर्ट और जैकेट भी इसी प्रिंट में बनाए जा रहे हैं। मतलब आने वाले साल में ये हिट ट्रेंड साबित होगा।

भारतीय प्रिंट पर विदेशी रंग

बांधनी और लहरिया के अलावा बाकी सारे प्रिंट में अक्सर हल्के और बुझे हुए रंगों का इस्तेमाल किया जाता था। अब चूंकि अंतरराष्ट्रीय फलक पर यह प्रिंट गए हैं तो इसमें बदलाव भी लाजमी था।

ऐसे में प्रिंट का स्वरूप वही रखते हुए रंगों के साथ प्रयोग किए गए हैं। अब यह प्रिंट चटख रंगों में बनाए जा रहे हैं। फैशन डिज़ाइनर नीना शाह का कहना है कि इस तरह के प्रिंट आने वाले हर मौसम में काफी पॉप्युलर रहेंगे क्योंकि इसकी मांग पहले सिर्फ गर्मी के मौसम में ही होती थी लेकिन अब यह ठंड के मौसम में भी स्टाइल ऑफ द सीजन बन रहा है। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस