नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Coconut Oil vs Argan Oil: बालों के लिए सही तेल चुनना सुनने में आसान लगता होगा, लेकिन मुश्किल होता है। सबके बाल अगल तरह के होते हैं, इसलिए सभी तरह के तेल सभी तरह के बालों को लिए सही नहीं होते। बाज़ार में आपको कई तरह के तेल मिल जाएंगे, लेकिन इनमें से आपके लिए कौन-सा बेस्ट साबित होगा, ये जानना बेहद ज़रूरी है। भारत में आमतौर पर नारियल तेल का उपयोग किया जाता है। नारियल तेल बालों से लेकर त्वचा तक, कई तरह के फायदे पहुंचाता है। तो आइए जानें नारियल तेल का उपयोग किस तरह फायदेमंद साबित होता है।

बालों की हिफाज़त करता है नारियल तेल

सूरज की किरणें हमारे बालों से नमी और चमक को छीन लेती हैं और उन्हें रूखा बनाती हैं। लेकिन जब आपके पास नारियल तेल है तो चिंता करने की ज़रूरत नहीं है। एक शोध के अनुसार, नारियल का तेल बाल में दस परतों को गहराई तक रिसता है और सुरक्षा की एक परत बनाता है, जो लगातार आपके बालों को हाइड्रेट करता है।

SPF और एंटीऑक्सीडेंट गुण

नारियल तेल में एसपीएफ और एंटीऑक्सीडेंट गुण भी होते हैं, जो सूरज की हानिकारक किरणों से बचाते हैं। इसके अलावा शैम्पू और अन्य प्रोडक्ट्स से होने वाले कैमिकल डैमेज, स्टाइलिंग प्रोडक्ट्स से होने वाले हीट डैमेज से भी बचाता है। आपको बस शैम्पू करने से पहले नारियल तेल लगाना है।

नारियल तेल बालों को अंदर से स्वस्थ बनाता है

नारियल तेल बालों की गहराई तक जाता है और उन्हें बाहर और अंदर से सेहतमंद बनाता है। बाज़ार में मिलने वाले स्टाइलिंग या हेयर केयर प्रोडक्ट्स आपके बालों को स्वस्थ रखने में कारगर साबित नहीं हो सकते। इस तेल में मौजूद फैटी एसिड और विटामिन बालों में गहराई तक जाते हैं और रूखेपन से निपटने के लिए बालों के रोम को मॉइश्चराइज़ और हाइड्रेट करते हैं।

स्कैल्प की रक्षा करता है नारियल तेल

एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर नारियल का तेल स्कैल्प से जुड़ी कई दिक्कतों को दूर करता है और उनका इलाज कर सकता है, जिसमें रूसी, रूखापन और अन्य संक्रमण शामिल हैं।

फ्रिज़ी बालों के लिए बेस्ट है नारियल तेल

हम चाहते यही हैं कि हमारे बाल रोज़ खूबसूरत लगें, लेकिन सच्चाई कुछ अलग ही है। जब बालों से नमी ख़त्म हो जाती है, तो बाल फ्रिज़ी हो जाते हैं। आमतौर पर यह तब होता है जब शैंपू में कुछ कठोर कैमिकल्स बालों की प्राकृतिक नमी को कम कर देते हैं। ऐसे में बालों को धोने के बाद जब वे गीले होते हैं, नारियल की कुछ बूंदें लेकर लगा लें। इससे मॉइश्चर लॉक हो जाएगा और बाल रूखे नहीं होंगे।

हालांकि, नारियल तेल दुनियाभर में अपने फायदों की वजह से पॉपुलर है, लेकिन ऐसे भी कई तरह के तेल हैं, जो आजकल भारतीय घरों में पॉपुलर हो रहे हैं। इन्हीं में से एक है आर्गन ऑयल। आर्गन ऑयल का उपयोग त्वचा, बालों और नाखूनों को सेहतमंद बनाए रखने के लिए होता है। आइए जानें इसके फायदे।

रात के लिए मॉइश्चराइज़र

आर्गन ऑयल को त्वचा फौरन सोख लेती है और त्वचा आयली भी नहीं होती। सर्दियों के मौसम में आर्गन ऑयल कुछ ज़्यादा इस्तेमाल करना पड़ सकता है। ये तेल न सिर्फ सुरक्षित है बल्कि इसे आंखों के आसपास भी लगाया जा सकता है। तेल में मौजूद विटामिन-ए और विटामिन-ई त्वचा पर पड़ रहीं झुर्रियों और उम्र से जुड़ी लकीरों को कम करने में मददगार साबित होते हैं।

स्किन टोनर

स्किन केयर रुटीन के लिए टोनिंग बेहद ज़रूरी स्टेप है। ग्लो के लिए आर्गन ऑयल की 3-4 बूंदे लेकर चेहरे पर टोनर की तरह इस्तेमाल करें।

एक्सफोलिएंट

नियमित तौर पर एक्सफोलिशन से डेड स्किन सेल्स से छुटकारा मिल सकता है और लकीरें व झुर्रियां भी कम होती हैं। जिससे आपको जवां और फ्रेश चेहरा मिलता है।

एक्ने से छुटकारा

इसके एंटीफंगल, एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-वायरल गुण आपको ज़िद्दी एक्ने से छुटकारा दिलाते हैं।

स्ट्रेच मार्क्स

विटामिन-ए और विटामिन-ई त्वचा को जीवंत रखने में मदद करते हैं, वहीं मॉइश्चराइजिंग प्रोपर्टीज़ स्ट्रेच मार्क होने से बचाती है। अगर आपके पहले से स्ट्रेच मार्क्स हैं, तो नहाने से पहले ब्राउन शुगर के साथ आर्गन ऑयल को मिलाकर रोज़ाना मसाज करें।

रेज़र से होने दिक्कत को दूर करता है

रेज़र बंप और रेज़र बर्न असहज होने के साथ भद्दे भी दिखते हैं। पुरुष जब दाढ़ी बनाते हैं या फिर महिलाएं जब पैरों को शेव करती हैं, तो इसके बाद त्वचा को शांत करने के लिए आर्गन ऑयल एक प्रभावी उपचार है।

लीव-इन कंडिशनर

आर्गन ऑयल न सिर्फ त्वचा के लिए फायदेमंद होता है बल्कि यह बालों की सेहत के लिए भी अच्छा है। यह तेल बिल्कुल भी चिकना नहीं है, इसलिए आप इसे लीव-इन कंडीशनर के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

डीप-कंडिशनिंग

अगर आपके बाल रूखे, बेजान हैं, तो हफ्ते में एक बार आर्गन ऑयल से ओवर-नाइट डीप कंडीशनिंग करें। अगर आप डैंड्रफ या ड्राई स्कैल्प से जूझ रही हैं, तो हफ्ते में दो बार ओवर-नाइट डीप कंडीशनिंग करें।

होंठों के लिए

आर्गन ऑयल सिर्फ त्वचा और बालों के लिए ही नहीं, बल्कि आपके होंठों के स्वास्थ्य के लिए भी बेस्ट है।

नाखूनों के लिए

इस तेल से सोने से पहले रोज़ाना नाखूनों के आसपास मालिश करें। इससे आपके क्यूटिकल्स हेल्दी होंगे।

पैरों के लिए

अगर आपके पैर खासतौर पर एडियां रूखी, फटी हैं, तो आर्गन ऑयल की दो बूंदें लें और इससे मसाज करें। ऐसा सोने से पहले नियमित तौर पर करें, तो आपको मुलायम और हेल्दी त्वचा मिलेगी।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Edited By: Ruhee Parvez