नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Wedding Trends With Covid-19: भारत में शादियों का मतलब हमेशा से हज़ारों लोगों का एक जगह इकट्ठा होना, धूम-धाम से जश्न मनाना, खाना और गाना बजाना रहा है, लेकिन कोरोना वायरस महामारी और उससे बचने के एहतियात ने इस परंपरा को पूरी तरह से बदल दिया है।  

धीरे-धीरे लोगों की ज़िंदगी वापस पटरी पर आना शुरू हुई है। सरकार की तरफ से आए दिशा निर्देश काफी सख़्त हैं, और इसके मुाबिक, शादी जैसे समारोह के लिए लोग 50 से ज़्यादा लोगों को एक साथ इकट्ठा नहीं कर सकते। एक रिसर्च के मुताबिक लोग सकारात्मक हैं, और शादियां रद्द नहीं कर रहे, बल्कि परिवार की उपस्थिति में शादी कर रहे हैं। वहीं, कई लोगों ने इसे अगले साल तक के लिए टाल दिया है। 

वेडिंग प्लानिंग कंपनियों ने कोरोना वायरस के दौर में शादियों और शादी की प्लानिंग में नए ट्रेंड देखे हैं: 

छोटी सेरेमनीज़: ज़्यादातर लोग अब कम लोगों के साथ छोटी सेरेमनी का आयोजन चाहते हैं। कई ऐसे भी हैं, जो अभी के लिए घर के सदस्यों के साथ समारोह कर लेते हैं और फिर साल के आखिर में धूम-धाम से शादी का प्लान कर रहे हैं।

सुरक्षा के उपाय: शादियों में अब वेलकम किट की जगह सैनिटाइज़िंग किट्स ने ले ली हैं। यहां तक कि, शादी में आमंत्रित मेहमानों से ऐहतियात के तौर पर मेडिकल सर्टीफिकेट भी मांगा जा सकता है।

शिफ्ट में आएंगे मेहमान: अगर शादी में हज़ार मेहमानों को आमंत्रित किया गया, तो लोगों में सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना मुश्किल है। वहीं, मेहमानों की लिस्ट में किसी शामिल करें और किसी हटाएं, ये तय करना काफी मुश्किल है। ऐसे में मेहमानों को शिफ्ट में बुलाया जा सकता है, ताकि ज़्यादा भीड़ भी न हो और शारीरिक दूरियां भी बनी रहें।

खाने की तैयारी: खाना कैसे तैयार किया जाता है और कैसे परोसा जाता है, ये काफी महत्वपूर्ण है। अब बुफे की जगह लोगों को दूरी पर बैठकर खाना होगा। ताकि लाइन लगने से बचा जा सके। 

मेकअप और हेयरस्टाइल: कोरोना वायरस के इस दौर में मास्क सभी के लिए ज़रूरी है, और अगर दुल्हन भी मास्क पहनती है, तो उसका लिप मेकअप नज़र नहीं आएगा। सारा फोकस आंखों और बालों पर रहेगा। साथ ही मेकअप टीम का मेडिकल चेकअप और सैनिटाइज़ेशन पर भी ख़ास ध्यान रहेगा। 

शादी का स्थल: महामारी के इस समय में बंद बैंक्वेट हॉल्स की जगह खुले और पार्क या गार्डन वाले वेन्यू ज़्यादा पसंद किए जाएंगे। हालांकि, मौसम अगर ख़राब हुआ, तो शादी का फंक्शन रद्द भी करना पड़ सकता है।

फोटोग्राफी: किसी बेहतरीन जगह पर शादी से पहले का शूट कोरोना के इस समय में करना काफी मुश्किल हो जाएगा। इसकी जगह पेड़, चांद और ढलते या उगते सूरज के साथ तस्वीरें खिचवां सकते हैं।  

ई-इंवाइट: अब ई-इंवाइट्स का दौर आ गया है। ज़्यादातर लोग अब कार्ड छपवाने की जगह उसका वीडियो बनाकर मेहमानों को आंत्रित करेंगे। 

 

Posted By: Ruhee Parvez

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस