नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Good Sleep Benefits: रोज़ रात में अच्छी नींद लेना आपकी सेहत के लिए बेहद ज़रूरी होता है। यहां तक कि, यह इतना ज़रूरी है, जितना की संतुलित और पोषण से भरी डाइट लेना और एक्सरसाइज़ करना। हालांकि, हर व्यक्ति की नींद की ज़रूरत अलग होती है, लेकिन फिर भी मनुष्य को 7 से 9 घंटे की नींद हर रात को लेनी चाहिए। दुनियाभर में 35 फीसदी से ज़्यादा लोग ऐसे हैं, जो नींद पूरी नहीं लेते।

नींद का पूरा होना आपको कई बीमारियों का शिकार बना सकता है। इसलिए इसे गंभीरता से लें और खुद को हेल्दी रखें। आइए आज जानें अच्छी नींद लेने के 8 कारणों के बारे में।

1. वज़न घटाने में मिल सकती है मदद

ऐसी कई स्टडीज़ हुई हैं, जो कम नींद को लेकर की गई हैं। इनमें देखा गया है कि जो लोग 7 घंटे से कम की नींद लेते हैं, उनमें वज़न बढ़ने का ख़तरा बढ़ जाता है। 2020 में हुए एक विश्लेषण से पता चलता है कि जो लोग रोज़ 7 घंटे से कम सोते हैं, उनमें मोटापा बढ़ने का ख़तरा 41 फीसदी ज़्यादा हो जाता है। नींद की कमी आपकी भूख को प्रभावित करती है और आप ज़्यादा कैलोरी का सेवन कर लेते हैं। खासतौर पर मीठा और कैलोरी से भरपूर खाना ज़्यादा खा लिया जाता है।

2. ध्यान और प्रोडक्टिविटी बढ़ती है

हमारे दिमाग के फंक्शन के लिए नींद का पूरा होना बेहद ज़रूरी है। नींद की कमी से अनुभूति, एकाग्रता, उत्पादकता और प्रदर्शन सभी नकारात्मक रूप से प्रभावित होते हैं। अगर आप रोज़ 8 घंटे की नींद लेते हैं, तो इससे आपकी समस्या को हल करने क्षमता बढ़ती है और साथ ही याददाश्त भी मज़बूत होती है। वहीं, नींद न पूरी होने की वजह से आपका दिमाग सही तरीके से काम नहीं करता और आप फैसला लेने में भी जूझते हैं।

3. आप एनर्जेटिक बनते हैं

रोज़ अच्छी नींद लेने से आप दिनभर एनर्जेटिक रहते हैं, जिससे आपकी प्रोडक्टिविटी भी बेहतर होती है। ऐसी कई रिसर्च हुई हैं, जिसमें देखा गया है कि नींद अच्छी तरह से पूरी करने से मोटर स्किल्स, रिएक्शन टाइम, ताकत, एंडुरेंस और समस्या हर करने की क्षमता बेहतर होती है। वहीं, नींद पूरी न हो तो उससे आप पूरा दिन चिड़चिड़े रहते हैं, और किसी भी काम को करने की शक्ति नहीं महसूस करते।

4. आपके दिल की सेहत में सुधार होता है

अगर आप रोज़ 7 घंटे से कम की नींद लेते हैं, तो इससे आप में दिल की बीमारी और हाई ब्लड प्रेशर का ख़तरा बढ़ता है। इसके साथ ही स्टडी में यह भी पाया गया है कि जो लोग 9 घंटे से ज़्यादा सोते हैं, उनमें भी दिलकी बीमारी और हाई ब्लड प्रेशर का ख़तरा बढ़ता है।

5. डायबिटीज़ का ख़तरा कम होता है

अगर आप रोज़ कम सोते हैं तो इससे टाइप-2 डायबिटीज़ का ख़तरा बढ़ता है। ऐसी कई रिसर्च हुई हैं, जिसमें नींद की कमी और टाइप-2 डायबिटीज़ में संबंध को देखा गया है।

6. डिप्रेशन का जोखिम भी कम होता है

नींद पूरी न लेना भी डिप्रेशन से जुड़ा पाया गया है, खासतौर पर जो लोग स्लीपिंग डिसॉडर से जूझ रहे होते हैं।

7. इम्यून सिस्टम को मिलती है मज़बूती

रोज़ कम से कम 7 घंटे की नींद लेने से इम्यून सिस्टम के काम में सुधार होता है। आपका शरीर सर्दी, खांसी, बुखार से लड़ने में सक्षम होता है।

8. एल्ज़ाइमर का ख़तरा कम होता है

नींद की कमी शरीर में सूजन का कारण भी बनती है। नींद अगर ठीक से न आए, तो इससे शरीर में सूजन बढ़ने लगती है। समय के साथ इससे दिल की बीमारी, तनाव और एल्ज़ाइमर जैसी बीमारियां होने लगती हैं।

Disclaimer:लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Picture Courtesy: Freepik

Edited By: Ruhee Parvez

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट