कितने लोगों के लिए : 6

सामग्री :

हींग पानी के लिए:

2 टे.स्पून इमली, 1 टे.स्पून धनिया पाउडर, 1/4 टी.स्पून हींग, 1/4 टी.स्पून लाल मिर्च पाउडर, 1/4 टी.स्पून काला नमक, 1/2 टी.स्पून चाट मसाला, स्वादानुसार नमक।

केवड़ा पानी के लिए:

1/4 कप चीनी, 1/2 टी.स्पून काला नमक, 1/2 टी.स्पून चाट मसाला, 1/2 नींबू का रस, 2-3 बूंद केवड़ा एसेन्स, 21/2 कप पानी।

लिमका पुदीना पानी के लिए:

1 बोतल लिमका, 1 कप पुदीने की पत्तियों व 2-3 हरी मिर्चो का पेस्ट, 1/2 टी.स्पून काला नमक, 1/2 टी.स्पून चाट मसाला, 1/2 टी.स्

विधि :

हींग पानी:

हींग पानी के लिए एक बड़े कटोरे में 2 कप पानी और सारी सामग्री मिला लें। 3-4 घंटे तक इसे रखा रहने दें। अब एक महीन कपड़े से छान लें और एक कप पानी और मिला लें। ठंडा कर सर्व करें।

खजूर इमली पानी:

खजूर और इमली धो लें। फिर इनके साथ गुड़, लाल मिर्च पाउडर, हींग, नमक और 4 कप पानी को 20-25 मिनट तक उबालें। अब इसे ठंडा करके छान लें। आप इस चटनी को एक महीने तक फ्रिज में और 6 महीने तक डीप फ्रीज करके रख सकते हैं और जब भी जरूरत हो इस्तेमाल करें। यहां बनी एक कप चटनी को 2 कप पानी के साथ मिला लें और ठंडा सर्व करें।

पूरी:

रवा, मैदा, सोडा वाटर और नमक मिलाकर आटा गूंथ ले। अब इस आटे को गीले मलमल के कपड़े के नीचे 10-15 मिनट के लिए रखे। आटे को 40 बराबर हिस्सों में बांट लें और प्रत्येक हिस्से से 37 मि.मी. की पूरियां बेल लें। अब इन पूरियों को नम कपड़े से 5 मिनट के लिए ढक दें। कड़ाही में तेल गर्म करें और मध्यम आंच पर पूरियां डीप फ्राई करें।

बूंदी:

बेसन, रवे और नमक का लगभग 1/4 कप से कुछ ज्यादा पानी के साथ घोल बना लें। कड़ाही में तेल गर्म करें। अब एक समय पर 3 से 4 चम्मच घोल को बूंदी झरा (छिद्रो वाली बड़ी सी चम्मच) के ऊपर से कढ़ाई में उतारे। बूंदी को मध्यम आंच पर तले। ध्यान रखे कि चम्मच तेल से कम से कम 3-4 इंच की ऊंचाई पर रहे।

Posted By: Pratima Jaiswal