skill X 1ision को ज्यादा दें अहमियत

मैं एमबीए कर रहा हूं। यह मेरा फाइनल इयर है। अब तक मेरे 60 परसेंट से अधिक मा‌र्क्स रहे हैं। मैं यह जानना चाहता हूं कि ज्यादा पैसे कमाने के लिए मुझे प्राइवेट सेक्टर में जाना चाहिए या गवर्नमेंट सेक्टर में?

राज कुमार, ग्रेटर नोएडा

आज के समय में जॉब में ज्यादा पैसे को तवज्जो देना सही है, लेकिन इसके लिए आपको कुछ बातों का हमेशा ध्यान रखना होगा। अपने काम में परफेक्ट और इनोवेटिव विजन रखने वाले लोग हमेशा आगे रहते हैं, चाहे वह प्राइवेट सेक्टर हो या फिर गवर्नमेंट। आगे रहने वालों को भरपूर पैसे मिलते हैं। इसलिए सबसे पहले यह देखें कि अपने स्पेशलाइजेशन वाले फील्ड में आपने खुद को इंडस्ट्री की डिमांड के हिसाब से कितना तैयार किया है? क्या आप इंडस्ट्री की रिक्वॉयरमेंट्स पर रेगुलर नजर रखते रहे हैं? क्या आप जॉब में पहले दिन से ही बेस्ट आउटपुट देने में खुद को सक्षम समझते हैं? क्या आप खुद को फ्लेक्सिबल मोड में रखते हुए हर सकारात्मक बदलाव को स्वीकार करने के लिए तैयार रहते हैं? अगर ये सभी क्वालिटीज आपमें हैं, तो प्राइवेट सेक्टर में अपनी पहचान भी बना सकते हैं और अच्छे पैसे भी कमा सकते हैं। जहां तक गवर्नमेंट जॉब की बात है, तो उसमें भी बैंक, पीएसयूज आदि अपने प्राइवेट कॉम्पिटिटर से मुकाबला करने के लिए अट्रैक्टिव पैकेज दे रहे हैं, इसलिए इनमें भी संभावनाएं तलाश सकते हैं। हालांकि यहां भी लगातार आगे बढ़ने के लिए पहले बताए फार्मूलों पर ही अमल करना होगा।

मैं प्राइवेट सेक्टर में काम कर रही हूं। दिल्ली यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट (करेस्पॉन्डेंस) हूं और एमबीए भी कर रही हूं। वर्तमान जॉब से संतुष्ट नहीं हूं। अब बीएड करना चाहती हूं। प्लीज मुझे बताएं कि मुझे क्या करना चाहिए?

प्रीति

अगर आप अपने जॉब से संतुष्ट नहीं हैं और टीचिंग में एंट्री करना चाहती हैं, तो इसमें कोई मुश्किल नहीं है। हां, इसके लिए बीएड करने के बाद सीटीइटी या स्टेट लेवल पर टीइटी भी क्लियर करना होगा। इसके बाद आप गवर्नमेंट स्कूल्स में अप्लाई कर सकती हैं। बिना सीटीइटी या टीइटी दिए प्राइवेट-पब्लिक स्कूल्स में भी ट्राई कर सकती हैं। बड़े या एडेड स्कूल्स में सैलरी गवर्नमेंट्स ग्रेड के अनुसार मिलती है। अगर टीचिंग में और आगे जाना चाहती हैं, तो पीजी के बाद नेट और पीएचडी करके कॉलेज या यूनिवर्सिटी में भी ट्राई कर सकती हैं। हालांकि सीटीइटी या नेट क्वालिफाई करने के लिए स्ट्रेटेजी बनाकर अच्छी तैयारी करनी होगी। टीचिंग को इंज्वॉय करने और स्टूडेंट्स में पॉपुलर होने के लिए रेगुलर स्टडी और रोचक तरीके से पढ़ाने की तकनीक भी डेवलप करनी होगी।

मैं एक फिल्म स्क्रिप्ट राइटर बनना चाहता हूं। मुझे इसके बारे में जरूरी जानकारी और सुझाव दें।

कुमार उदित

पिछले कुछ वर्षो से बॉलीवुड में तमाम नए फिल्म राइटर्स सामने आकर अपनी पहचान बना रहे हैं। यह पूरी तरह से क्रिएटिव फील्ड है। जो अपनी क्रिएटिविटी से अलग पहचान बनाने की क्षमता रखता है, उसे फिल्म स्क्रिप्ट राइटर के रूप में मौका जरूर मिल सकता है। इस फील्ड में एंट्री के लिए खुद को क्रिएटिव राइटर के रूप में डेवलप करना होगा। आप चाहें तो नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा, दिल्ली या फिल्म ऐंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, पुणे से कोर्स भी कर सकते हैं। इससे आपको सही दिशा में आगे बढ़ने में मदद मिल सकती है। कम से कम ग्रेजुएशन के बाद किसी क्रिएटिव राइटर के असिस्टेंट के रूप में भी काम करके भी जरूरी बारीकियां सीख सकते हैं।

मैंने अभी सीनियर सेकंडरी का एग्जाम दिया है। मैं पॉलिटेक्निक करना चाहता हूं। इसके लिए मुझे क्या करना चाहिए? क्या पॉलिटेक्निक के साथ-साथ मैं कोई और प्रिपरेशन कर सकता हूं?

हेमंत मौर्या

पॉलिटेक्निक इंस्टीट्यूट्स में एडमिशन के लिए स्टेट लेवल पर एंट्रेंस आर्गनाइज किया जाता है। इसे क्लियर करने वाले स्टूडेंट को उसकी पसंद के ब्रांच में एडमिशन मिलता है। हाल के वर्षो में कुछ प्राइवेट इंस्टीट्यूट्स और यूनिवर्सिटीज द्वारा भी विभिन्न ब्रांचेज में पॉलिटेक्निक कोर्स चलाए जा रहे हैं। आप एंट्रेंस क्लियर करके या फिर दसवीं और बारहवीं के अंकों के आधार पर पॉलिटेक्निक में एडमिशन ले सकते हैं। 12वीं के आधार पर आप एनडीए एग्जाम में अपीयर हो सकते हैं। इसका आयोजन यूपीएससी द्वारा साल में दो बार किया जाता है। अगर आपने पीसीएम से 12वीं किया है, तो आ‌र्म्ड फोर्सेज के तीनों विंग्स के लिए एनडीए एग्जाम में अपीयर हो सकते हैं। पिछले वर्षो के पेपर्स से आप इस एग्जाम की अच्छी तैयारी कर सकते हैं। पॉलिटेक्निक में प्रवेश मिलने के बाद भी अपनी जनरल नॉलेज को रेगुलर बेसिस पर अपडेट करते रहें।

हाल में मैंने दसवीं बोर्ड का एग्जाम दिया है। साइंस में बहुत इंट्रेस्ट है। इसी में करियर बनाना चाहता हूं। आगे एक साइंटिस्ट या इन्वेंटर के रूप में खुद को देखना चाहता हूं। कृपया इसके लिए कोर्स और इंस्टीट्यूट के बारे में बताएं।

विश्वजीत कुमार

साइंस में इंट्रेस्ट रखने के लिए आपकी तारीफ की जानी चाहिए। इस सब्जेक्ट में न तो हमारे यहां अच्छे टीचर्स की कमी है और न ही अच्छे संस्थानों की। बेहतर यही होगा कि आप अपने शहर के किसी अच्छे स्कूल से साइंस स्ट्रीम से बारहवीं कर लें। इस दौरान कोर्स कवर करने के साथ-साथ देश और दुनिया में सामने आ रही साइंस की गतिविधियों में भी दिलचस्पी रखें। पीजी और पीएचडी के बाद साइंटिस्ट बनने की राह पर आगे बढ़ सकते हैं।

करियर से संबंधित सवाल

counselor@nda.jagran.com

पर ईमेल करके पूछ सकते हैं..

अरुण श्रीवास्तव

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस