आजकल लोग फिटनेस के प्रति काफी सजग हो गए हैं। ऐसे में उन लोगों की डिमांड बढ़ गई है, जो फिटनेस की ट्रेनिंग देते हैं..

आज हर शख्स मानसिक और शारीरिक रूप से सेहतमंद रहना चाहता है। इसलिए मेट्रो सिटीज से लेकर छोटे शहरों में भी हेल्थ और फिटनेस सेंटर्स की संख्या दिनों-दिन बढ़ रही है। इसके अलावा, इंडिया में इंटरनेशनल फिटनेस चेन्स के आने से भी ट्रेंड इंस्ट्रक्टर्स की डिमांड बढ़ गई है। ऐसे में अगर आप भी खुद के साथ दूसरों को फिट रखना चाहते हैं, तो बतौर

फिटनेस इंस्ट्रक्टर करियर का आगाज कर सकते हैं।

वर्क प्रोफाइल

फिटनेस इंस्ट्रक्टर अलग-अलग उम्र के लोगों को फिटनेस के विभिन्न पहलुओं के अनुरूप शेप में रहने की ट्रेनिंग देते हैं। इसके तहत पर्सनल लेवल या ग्रुप में लोगों को एक्सरसाइज, योग, एरोबिक्स और मशीनों के जरिए वजन कम करने का प्रशिक्षण दिया जाता है। इसके अलावा अच्छी सेहत, पौष्टिक भोजन, जीवनशैली में बदलाव और सही पॉश्चर के फायदे भी बताए जाते हैं।

क्वालिफिकेशन

फिटनेस इंस्ट्रक्टर बनने के लिए आपको फिजिकल एजुकेशन में डिप्लोमा, ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा, पीएचडी या सर्टिफिकेट कोर्स करना होगा। कोर्स के दौरान फिजिकल एजुकेशन और स्पो‌र्ट्स की बेसिक नॉलेज, जिम्नास्टिक, गेम्स थ्योरी, योग एरोबिक्स, किक बॉक्सिंग आदि की ट्रेनिंग दी जाती है।

जॉब प्रॉस्पेक्ट्स

फिटनेस इंस्ट्रक्टर जिम, होटल्स, हेल्थ क्लब्स, फिटनेस क्लब्स , फिटनेस सेंटर्स, स्पा, टूरिस्ट रिजॉर्ट, हाउसिंग सोसायटीज और मल्टीनेशनल कंपनीज में काम कर सकते हैं। स्पो‌र्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया भी खिलाड़ियों को ट्रेनिंग देने के लिए फिटनेस कोच की नियुक्ति करती रहती है। सबसे अहम बात यह है कि आजकल बड़े-बड़े स्टार्स और सेलिब्रिटीज पर्सनल ट्रेनर नियुक्त करने लगे हैं। इसलिए कोर्स करने के बाद आपके लिए संभावनाओं की कमी नहीं रहेगी।

एक बार स्टैब्लिश होने पर नामी ट्रेनर्स तो एक से दो हजार रुपये प्रति घंटे तक फीस लेते हैं। इसके अलावा कॉरपोरेट घरानों या विभिन्न जगहों पर गेस्ट सेशन देकर भी आप कमाई कर सकते हैं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप