जिंदगी की आपाधापी से उपजी अकुलाहट, प्रतिस्पर्धा का कहर, अपनों से बढ़ती दूरियां, संवेदनाओं की सिकुड़ती जमीन, काम के बढ़ते घंटे और महत्वाकांक्षाओं की ऊंची उड़ानों ने हमारी जिंदगी को तनाव से भर दिया है। हालांकि, कोमल भावनाओं की टूटती इन कड़ियों के बीच खुश रहने के लिए हमारे पास एक उम्दा उपाय जोक्स या चुटकुले हैं। ये हमारी जिंदगी में जिंदादिली और गर्माहट घोलते हैं। इससे न सिर्फ आसपास की फिजा खुशनुमा बनती है, बल्कि हम बेहतर मानसिक, शारीरिक, सामाजिक जीवन जीने में भी सक्षम होते हैं। साफ तौर पर इसका लाभ हमें करियर की ग्रोथ के रूप में भी मिलता है।

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Hindi Jokes: पिछले कुछ सालों में हम सभी की ज़िंदगी में इतनी भागदौड़ हो गई है कि सेहतमंद रहना भी एक टास्क हो गया है। हमें अपना ख़्याल रखने के लिए भी समय नहीं मिल पाता। ऐसे में अगर आप रोज़ाना हंस लें, तो आपकी सेहत को काफी फायदा हो सकता है। रोज़ हंसने की आदत डाल ली जाए तो कई गंभीर बीमारियों के जोखिम को टाला जा सकता है। इसके अलावा आप मानसिक तौर पर भी फ्रेश महसूस करेंगे। ऐसे में जोक्स यानी चुटकुले आपको कभी भी और कहीं भी हंसा सकते हैं।

1. टीचर: भैंस पूंछ क्यों हिलाती है?

चंटू: क्योंकि पूंछ में इतनी ताकत नहीं होती कि भैंस को हिला सके.

2. पति: मुझे अपनी पत्नी से तलाक चाहिए...वो बर्तन फेंककर मुझे मारती है।

जज: अभी या पहले से?

पति: 5 साल से...!

जज: तो अब तलाक क्यों मांग रहे हो?

पति: क्योंकि अब उसका निशाना पक्का हो गया है...!!

3. संता: बताओ...जीन्स और पजामे का अंतर कब पता चलता है?

बंता: जब जीन्स मैं चींटी घुस जाए...!!

सभी हेल्थ एक्सपर्ट्स का मानना है कि हंसने से हमारा इम्यून सिस्टम बेहतर होता है। इससे ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है, जिससे दिल की बीमारियों की संभावना कम होती है। हम शारीरिक तौर पर भी हल्का महसूस करते हैं, जिससे हमारी याददाश्त भी बढ़ जाती है। खुश रहने वाले व्यक्ति से हर कोई मिलना और संबंध बनाना चाहता है। ऐसे लोग परिवार और समाज के साथ ऑफिस में भी अधिक लोकप्रिय होते हैं। सही समय पर सटीक जोक्स से आप बेरंग माहौल में भी रंग घोल देते हैं। इससे आपकी पर्सनैलिटी आकर्षक होती है और लोग आपकी तरफ खिंचे चले आते हैं।