संवाद सहयोगी, चाईबासा : चाईबासा के गांधी टोला में इस बार शहरवासियों को दक्षिण-भारत का भव्य मंदिर देखने को मिलेगा। श्रीश्री दुर्गा पूजा समिति गांधीटोला ने इस बार दक्षिण भारत के मंदिर की तर्ज पर भव्य पंडाल बनाने का निर्णय लिया है। पंडाल निर्माण का कार्य गणेश चतुर्थी पूजा के दिन से शुरू किया जाएगा। पंडाल के मुख्य संरक्षक विधायक दीपक बिरुवा, संरक्षक उद्योगपति सह समाजसेवी राजकुमार साह, समाजसेवी सुनील प्रसाद साव, वरीय अधिवक्ता रामेश्वर प्रसाद, मधुसूदन अग्रवाल व घनश्याम दरबारा हैं। श्रीश्री दुर्गा पूजा समिति गांधीटोला पूजा पंडाल के अध्यक्ष नितिन प्रकाश व सचिव टीके राज मोहन उर्फ राजू ने संयुक्त रूप से बताया कि हर बार यहां के पंडाल अलग-अलग बनाए जाते हैं। इस बार पंडाल निर्माण में साढ़े 12 लाख रुपये अनुमानित खर्च आएगा। पंडाल में स्थापित करने के लिए मां दुर्गा की प्रतिमा चक्रधरपुर में निर्माण कार्य शुरू करा दिया गया है, ताकि पंचमी तक मां की प्रतिमा को पंडाल लाया जा सके। पंडाल बनाने के लिए वर्मा टेंट हाउस ने जिम्मेदारी ली है। इन्हीं की देखरेख में भव्य पंडाल का निर्माण कराया जाएगा। पंडाल के सामने समाज के प्रति संदेश देने वाली भव्य झांकी, स्वच्छता व अन्य विभिन्न रूपों में झांकी लगाई जाएगी ताकि झांकी भक्त को अपनी ओर आकर्षित करें। बता दें कि पिछले पांच वर्ष से जजों की ओर से श्रीश्री दुर्गा पूजा समिति गांधीटोला को पंडाल में एक नंबर का दर्जा दिया जा रहा है। इसी बार भी प्रयास रहेगा कि गांधीटोला का पंडाल पूरे शहर से एक नंबर बनाया जाय।

Posted By: Jagran