संवाद सूत्र, नोवामुंडी : बड़ाजामदा माइनिंग एरिया ट्रक ऑनर एसोसिएशन कार्यालय में मंगलवार को आपातकालीन बैठक हुई। इसकी अध्यक्षता एसोसिएशन अध्यक्ष अरविंद कुमार चौरसिया ने की। बैठक में बताया गया कि तीन माह पहले यह तय हुआ था कि टाटा स्टील लांग प्रोडक्ट कंपनी की घाटकुड़ी विजय दो खदान से गुवा रेलवे साइडिग तक 230 रुपये टन के हिसाब से लौह अयस्क ढुलाई भाड़ा दिया जाएगा। कंपनी से वार्ता हुए तीन महीने होने जा रहे हैं परंतु अबतक 220 रुपये प्रति टन के हिसाब से भाड़ा देकर वाहन मालिकों के साथ कंपनी प्रबंधन धोखाधड़ी कर रहा है। गुवा के नुइंया मुख्य सड़क से रेलवे साइडिग तक एक किलोमीटर सड़क और बड़ाजामदा से रेलवे साइडिग तक 500 मीटर सड़क निर्माण की बात भी कंपनी ने कही थी, उस दिशा में भी कोई काम नहीं किया गया। जर्जर सड़क से होकर लौह अयस्क लोडिग के लिए खदान तक जाने और लौह अयस्क लेकर साइडिग तक आने में हमेशा सड़क दुर्घटना हो रही है। सड़क दुर्घटना में जख्मी लोगों के लिए इलाज के लिए चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए भी मांग रखी गई थी। इस पर भी कंपनी गंभीर नहीं है। इन सारे मुद्दों को लेकर एसोसिएशन 22 सितंबर से चक्का जाम पर उतर रहा है। एसोसिएशन अध्यक्ष अरविंद चौरसिया ने कहा कि इस बार कंपनी के विरोध में आर-पार की लड़ाई लड़ी जाएगी। जब-तक संतोषजनक वार्ता नहीं होती है तब-तक अनिश्चितकालीन चक्का जाम जारी रहेगा। इस विषय को लेकर छह सितंबर को टाटा स्टील ओएमक्यू डिवीजन के जीएम को भी मांग पत्र देकर अवगत कराया जा चुका है। बंदी को सफल बनाने के लिए नोवामुंडी झामुमो प्रखंड अध्यक्ष अशोक दास ने भी समर्थन देने की बात कही है। अशोक दास ने कहा कि जबतक वाहन चालकों की मांगे पूरी नहीं होती हैं तबतक आंदोलन जारी रहेगा। बैठक में उमाशंकर निषाद, मनोज कुमार साहू, रूपा खान, रिमू बहादुर, मो. शकील, मो. मिर्जा, फिरोज बैग, अंशु अग्रवाल, सुशील अग्रवाल, रामानुज सिंह, चितरंजन प्रधान, रणधीर कुमार चौधरी, अकबर हुसैन, अतुल मिश्रा, धीरज कुमार, रमेश जयसवाल, मो. नसीम, हरि यादव, गुरमेल सिंह आदि मौजूद थे।

Edited By: Jagran