जागरण संवाददाता, चाईबासा : टाटा स्टील में मंगलवार को वार्षिक बोनस समझौता हो गया। टाटा स्टील में बीते वित्तीय वर्ष में लगभग 9000 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था।

इस आधार पर कर्मचारियों के बीच 239.61 करोड़ रुपये बोनस के रूप में बंटेंगे। समझौते के तहत टाटा स्टील जमशेदपुर और ट्यूब के 13 हजार 675 कर्मचारियों के हिस्से में इस बार 131.22 करोड़ रुपये आएंगे। वहीं कोयला और खदान के मद में कुल 60.69 करोड़ रुपये आएंगे। इसमें टाटा स्टील की नोवामुंडी माइंस (ओएमक्यू) के कुल 1917 कर्मचारियों के बीच 11.88 करोड़ रुपये, जामाडोबा के 3720 कर्मचारियों के बीच 26.02 करोड़ रुपये और वेस्ट बोकारो के 2697 कर्मचारियों के बीच 22.97 करोड़ रुपये बोनस के तौर पर बंटेंगे। टाटा स्टील की नोवामुंडी माइंस डिवीजन में न्यूनतम 34,764 रुपये और अधिकतम 1,92,310 मिलेंगे। 26 सितंबर तक पैसा कर्मचारियों बैंक एकाउंट में भेज दिया जाएगा। पिछले साल टाटा स्टील में 203.24 करोड़ रुपये बोनस बंटा था। जमशेदपुर प्लांट के मद में करीब 110 करोड़ एवं नोवामुंडी माइंस के मद में कुल 11.94 करोड़ रुपये आए थे। इस हिसाब से नोवामुंडी माइंस के खाते में बोनस मद में छह लाख रुपये कम आए। दुर्गा पूजा से पांच दिन पूर्व ही टाटा स्टील में बोनस समझौता हो जाने से कर्मचारियों में हर्ष का माहौल है। बोनस समझौते पर वाइस प्रेसिडेंट (एचआरएम) सुरेश दत्त त्रिपाठी, वाइस प्रेसिडेंट रॉ-मैटेरियल अरुण मिश्रा समेत अन्य अधिकारियों के अलावा नोवामुंडी माइंस वर्कर्स यूनियन के अध्यक्ष शैलेष पांडेय और महासचिव संजय कुमार दास ने हस्ताक्षर किए।

-------------------

टाटा स्टील की नोवामुंडी माइंस में भी बोनस समझौता मंगलवार को हो गया है। वैश्विक आर्थिक मंदी के इस दौर में भी टाटा कंपनी ने अपने कर्मचारियों पर धन वर्षा की है। करीब 15.86 फीसद पर यह बोनस समझौता किया गया है। कल कमेटी मीटिग बुलाकर सभी कर्मचारियों को बोनस समझौते की जानकारी देंगे।

फोटो-34-संजय कुमार दास, महासचिव, नोवामुंडी माइंस वर्कर्स यूनियन।

-----------------------

फीसद में बात करें तो पिछले साल से इस बार बोनस समझौता बहुत अच्छा हुआ है। पिछले साल करीब 12.54 फीसद हुआ है। इस बार 15.86 फीसद बोनस मिला है। इसके लिए टाटा वर्कर्स यूनियन अध्यक्ष आर रवि प्रसाद और उनकी टीम बधाई की पात्र है।

- शैलेश पांडेय, अध्यक्ष, नोवामुंडी माइंस वर्कर्स यूनियन, टाटा स्टील।

-----------------------

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप