संसू, जगन्नाथपुर : चालक व खलासी को गोली मारकर लौह अयस्क लदे ट्रेलर को लेकर भागने वाले अपराधियों की खोज में पश्चिमी सिंहभूम जिला के सभी थानों की टीम लग गयी है मगर अभी तक अपराधियों का कोई सुराग पुलिस को नहीं लग पाया है। मामले में पुलिस अभी तक लौह अयस्क लदा ट्रेलर ही बरामद कर पायी है। यह ट्रेलर सरायकेला जिला के कांड्रा थाना के पास से गुरुवार की शाम को मिला था। जिले में पहली बार हुई इस तरह की वारदात की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक अजय लिडा शुक्रवार को स्वयं मौका-ए-वारदात पर पहुंचे हुए थे। जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के जेटेया मोड़ के पास जाकर उन्होंने गहनता से घटनास्थल की पड़ताल की। पुलिस अधीक्षक ने उस स्थल को भी देखा जहां पर खालासी राहुल यादव की लाश मिली थी और जहां चालक घायल अवस्था में मिला था। उन्होंने थाना प्रभारी यशराज सिंह से पूरे मामले की जानकारी ली। उन्होंने भरोसा दिलाया है कि बहुत जल्द इस कांड से जुड़े सभी अपराधी पुलिस की गिरफ्त में होंगे। फिलहाल सभी थानों को अलर्ट किया गया है। जगह-जगह सीसीटीवी खंगाले जा रहे हैं। खासकर पांड्राशाली, कांड्रा और आदित्यपुर टोल ब्रिज के सीसीटीवी के जरिये सुराग निकालने की कोशिश की जा रही है। जानकारी हो कि जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत जेटेया मोड़ पर तीन नकाबपोश अपराधियों ने 28 सितम्बर की देर रात को आयरन लदे ट्रेलर रोककर चालक और खलासी को गोली मार दी थी। इसके बाद ट्रेलर लेकर फरार हो गये थे। इस घटना में खलासी बिहार के नालन्दा निवासी राहुल यादव की जहां घटना स्थल पर ही मौत हो गई थी वहीं चालक गुड्डु यादव गम्भीर हालत में मिला था। घटनास्थल का निरीक्षण करने के बाद पुलिस अधीक्षक अजय लिडा ने जगन्नाथपुर थाना प्रभारी यशराज सिंह को क्षेत्र में रात्रि गश्ती बढ़ाने का निर्देश दिया है।

Edited By: Jagran