संवाद सूत्र, कुमारडुंगी : कुमारडुंगी के छोटा रायकमन के उत्क्रमित मध्य विद्यालय में लगभग 40 प्रवासी मजदूर होम क्वारंटाइन हैं। भवन में जगह नहीं होने के कारण ये मजदूर मजबूरन बारामदे में सोते हैं। आसपास जंगल क्षेत्र होने के कारण अक्सर यहां सांप निकलते हैं। इस कारण रात में मजदूर ठीक से सो नहीं पा रहे हैं। उन्हें हमेशा सतर्क रहना पड़ता है। प्रवासी मजदूरों ने बताया कि कुछ दिन पहले मझगांव प्रखंड क्षेत्र के बेनिसागर पंचायत अंतर्गत तीलोकुटी गांव में सांप के काटने से होम क्वारंटाइन में रह रही महिला की मौत हो गई थी। रात में वो जमीन पर सोई थी। इस कारण ये मजदूर ज्यादा दहशत में हैं।

--------------

पंचायत भवन में मुखिया ने लगा रखा है ताला

दरअसल, छोटारायकमन पंचायत भवन को क्वारंटाइन सेंटर बनाने के लिए बीडीओ ने पांच बेड लगवाएं हैं परंतु पंचायत मुखिया साधु हेंब्रम ने पंचायत भवन को ताला लगाकर बंद कर रखा है। इस कारण बाहर से आए प्रवासी मजदूर बेड होते हुए भी बरामदे में भय के साथ रात गुजार रहे हैं। पंचायत मुखिया ने प्रवासियों को अनदेखा कर रखा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस